जनरल मोटर्स का बड़ा ऐलान : 31 दिसंबर से भारत में नहीं बेचेगा गाड़ियां

News18Hindi
Updated: May 18, 2017, 7:01 PM IST
जनरल मोटर्स का बड़ा ऐलान : 31 दिसंबर से भारत में नहीं बेचेगा गाड़ियां
31 मार्च को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में कंपनी ने 70,969 गाड़ियां एक्सपोर्ट की थीं.
News18Hindi
Updated: May 18, 2017, 7:01 PM IST
जनरल मोटर्स 31 दिसंबर से भारत में अपनी गाड़ियों की बिक्री बंद कर देगी. गुरुवार को कंपनी ने यह जानकारी दी. कंपनी के मुताबिक, अब वे सिर्फ एक्सपोर्ट के लिए व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग करेंगे. भारत में बिक्री के लिए बंद की जाने वाली गाड़ियों में शेवरले ब्रांड की गाड़ियां भी शामिल हैं. हालांकि, शेवरले भारत में अपने कस्टमर्स को सेल्स और सर्विस सपोर्ट देती रहेगी. साथ ही व्हीकल वारंटी बरकरार रहेगी.

कंपनी ने यह फैसला गुरुवार को डेट्रॉयट स्थित हेडक्वार्टर  में लिया. ऑफिशियल स्टेटमेंट में जनरल मोटर्स इंटरनेशनल की ओर से कहा गया, "कंपनी अपनी भारतीय यूनिट में गाड़ियों की मैन्युफैक्चरिंग एक्सपोर्ट के लिए करेगी."

बता दें कि ऑटोमोबाइल इंडस्ड्री में भारत जल्द ही जापान को पीछे छोड़ देगा, जो कि तीसरी सबसे बड़ी मार्केट है.

शेवरले इंडिया वेबसाइट के होम पेज पर बिक्री बंद किए जाने का नोटिस दिख रहा है.


कंपनी ने बताया, "शेवरले इंडिया सभी प्रमुख लोकेशन्स पर सर्विस नेटवर्क बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है. साथ ही हमारा प्रक्षिशित स्टाफ आपकी गाड़ियों की मेंटेनेंस और रिपेयरिंग के लिए भी पहले की तरह उपलब्ध रहेगा. हम शेवलरले कस्टमर्स को पहले की तरह सर्विस देते रहेंगे."

जनरल मोटर्स बीते करीब दो दशकों से भारतीय मार्केट में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने की कोशिश कर रही है. हालांकि, अब भी यहां के बाजार में उसकी हिस्सेदारी महज 1 फीसदी ही है.



31 मार्च को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में कंपनी ने 70,969 गाड़ियां एक्सपोर्ट की थीं.  एक न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में जनरल मोटर्स के प्रेसिडेंट डैन ऐम्मैन ने बताया कि पिछले साल कंपनी के ग्लोबल बिजनेस में 800 मिलियन डॉलर का घाटा हुआ था.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर