Alert! 1 जुलाई से पहले खरीद लें बाइक, बाद में हो जाएगी महंगी

भाषा
Updated: May 19, 2017, 10:03 PM IST
Alert! 1 जुलाई से पहले खरीद लें बाइक, बाद में हो जाएगी महंगी
वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) व्यवस्था के तहत 350 सीसी इंजन क्षमता से अधिक की मोटरसाइकिलों, प्राइवेट जेट प्लेनों और महंगी आलीशान बोट्स की खरीदारी पर 31 परसेंट की दर से जीएसटी लगेगा.
भाषा
Updated: May 19, 2017, 10:03 PM IST
वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) व्यवस्था के तहत 350 सीसी इंजन क्षमता से अधिक की मोटरसाइकिलों, प्राइवेट जेट प्लेनों और महंगी आलीशान बोट्स की खरीदारी पर 31 फीसदी की दर से जीएसटी लगेगा. पान-मसाला गुटखा पर जीएसटी की शीर्ष दर के ऊपर 204 प्रतिशत उपकर (ser charge) लगेगा. जीएसटी व्यवस्था एक जुलाई से लागू होगी.

जीएसटी परिषद की दो दिवसीय बैठक में यह फैसला किया गया. बैठक में लिए गए निर्णय के मुताबिक सभी कारों, बसों, ट्रकों और मोपेड और मोटरसाइकिलों के साथ साथ व्यक्तिगत इस्तेमाल के प्लेन, लक्जरी बोट्स पर सबसे ऊंची दर 28 प्रतिशत पर जीएसटी लगाया जाएगा. इसके अलावा सभी तरह की कारों, एसयूवी और 350 सीसी इंजन वाली मोटरसाइकिलों पर अतिरिक्त उपकर(ser charge) भी लगाया जाएगा.

प्राइवेट प्लेन, लक्जरी बोट्स और 350सीसी से अधिक इंजिन क्षमता वाली मोटर साइकिलों पर 28 प्रतिशत के ऊपर तीन परसेंट उपकर भी लगाया जाएगा. इस प्रकार इन पर कुल 31 प्रतिशत की दर से जीएसटी लगेगा. इसी प्रकार चार मीटर से कम लंबी और 1200सीसी के पेट्रोल इंजन वाली कारों पर 28 प्रतिशत के ऊपर एक प्रतिशत ऊपकर लगेगा. 1500 सीसी से कम क्षमता वाली छोटी डीजल कारों पर जीएसटी की शीर्ष दर के ऊपर तीन प्रतिशत उपकर (ser charge) लगेगा.

इसी प्रकार छोटी कारों, एसयूवी और लक्जरी कारों पर 28 प्रतिशत की जीएसटी दर के उपर 15 प्रतिशत की दर से उपकर लगेगा. बसों और ऐसे वैन जिनमें 10 से ज्यादा लोग बैठक सकते हैं उनपर भी इसी दर से उपकर लागू होगा. 1500सीसी इंजन क्षमता से अधिक की हाइब्रिड कारों पर भी शीर्ष जीएसटी दर के उपर 15 प्रतिशत की दर से उपकर लगाया जाएगा.

चॉकलेट च्‍युइंगम महंगे, साबुन तेल होंगे सस्‍ते, जीएसटी रेट को लेकर आज भी बैठक
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर