गुणकारी पुदीने का जादुई असर निखारेगा गर्मियों में त्वचा की रंगत

News18Hindi
Updated: May 18, 2017, 8:16 AM IST
गुणकारी पुदीने का जादुई असर निखारेगा गर्मियों में त्वचा की रंगत
पुदीना अच्छा एंटीबायटिक होने के साथ ही आपकी त्वचा को भी बेमिसाल बनाता है.
News18Hindi
Updated: May 18, 2017, 8:16 AM IST
खाने का जायका बढ़ाने वाला पुदीना पेट की समस्याओं को दूर करने की औषधि भी है. गर्मियां आते ही बाजार में चारों तरफ सिर्फ पुदीना ही दिखाई देता है. पुदीना लगभग हर घर की रसोई में होता है. इसका एंटी-बैक्टीरियल गुण भी इसके फायदों में इजाफा करने का काम करता है. पुदीने को गुणों की खान माना जाता है.

साधारण-सा दिखने वाला ये पौधा बहुत शक्तिशाली और चमत्कारी प्रभाव रखता है. इसमें मौजूद फाइबर आपके कॉलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं और इसमें मौजूद मैग्नीशियम हड्डियों को ताकत देता है और इन्हें मजबूत बनाता है. पुदीना अच्छा एंटीबायटिक होने के साथ ही आपकी त्वचा को भी बेमिसाल बनाता है. आज आपको बताते हैं पुदीने के फायदे.

पुदीने की तासीर ठंडी होती है
पुदीने की तासीर ठंडी होती है


त्वचा को पोषण देता है

पुदीना अपनी ठंडी तासीर के लिए जाना जाता है. खीरे की तरह ही पुदीना भी त्‍वचा को मॉश्‍चराइज करने के काम आता है. पुदीने की पत्तियों के रस को चेहरे पर लगाने से त्‍वचा को ताजगी और नमी मिलती है. साथ ही पुदीने के रस से त्‍वचा के पोर्स भी खुलते हैं. पुदीने की पत्तियों के रस को दही या शहद के साथ मिलाकर लगाना बहुत फायदेमंद होता है.

दाग-धब्बों से दिलाता है मुक्ति
बढ़ती उम्र का असर चेहरे पर भी दिखाई देता है. जैसै-जैसे उम्र बढ़ती है, त्वचा पर दाग-धब्बे उभरने लग जाते हैं. पुदीने की पत्तियों का पेस्ट बनाकर उसे चेहरे पर लगाने से ये दाग-धब्बे दूर होते हैं. कुछ ही समय बाद आपको इसका फर्क दिखाई देने लगेगा. इसके अलावा यह पिग्मेंटेशन की समस्या को भी दूर करने का काम करता है.

पुदीने की पत्तियों में सैलीसिलिक एसिड पाया जाता है
पुदीने की पत्तियों में सैलीसिलिक एसिड पाया जाता है


कील-मुंहासों दूर करता है
पुदीने की पत्तियों में सैलीसिलिक एसिड पाया जाता है, जो कील-मुंहासों और उनसे होने वाले दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करता है. इसके लिए पुदीने की पत्त‍ियों में गुलाब जल मिलाकर पेस्ट की तरह पीस लें और इसे चेहरे पर लगाएं. कुछ ही दिनों में आपको अपनी त्वचा में फर्क नजर आने लगेगा. आप चाहे तो पुदीने की पत्तियों के पेस्ट में मुल्तानी मिट्टी मिलाकर भी मुंहासों पर लगा सकते हैं.

त्वचा की रंगत निखारता है
बदलते मौसम की वजह से त्वचा का रूखा होना स्वाभाविक है. इस रूखेपन से बचने के लिए रोज के खाने में पुदीना शामिल करें. इससे भरपूर एंटीऑक्सीडेंट मिलेगा और त्वचा का निखार बरकरार रहेगा. इसके अलावा पुदीना न केवल त्वचा की सफाई करने के काम आता है बल्क‍ि इसके नियमित इस्तेमाल से त्वचा की रंगत भी निखरती है. त्‍वचा में निखार लाने के लिए पुदीने की पत्तियों के पेस्ट या फिर इसके रस को नियमित रूप से चेहरे पर लगाएं.

पुदीने में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है
पुदीने में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है


सनबर्न और टैनिंग से बचाता है
गर्मियों में तेज धूप की वजह से हमारी त्‍वचा टैन हो जाती है. त्वचा की टैनिंग दूर करने के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड बहुत मददगार होता है. टैनिंग दूर करने के लिए त्‍वचा पर पुदीने की ताजा पत्तियों के लेप को लगाने से जल्‍द फायदा मिलता है. इसके अलावा गर्मियों में तेज धूप में सनबर्न की समस्या बेहद आम है. सनबर्न वाली त्वचा पर मुल्तानी मिट्टी में पुदीने का रस या पिपिरमिन्ट ऑयल मिलाकर लगाने से मुक्ति मिलती है.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर