गूगल अकाउंट के जरिए दूसरी साइटों पर साइन इन संभव

वार्ता
Updated: February 27, 2013, 6:26 AM IST
गूगल अकाउंट के जरिए दूसरी साइटों पर साइन इन संभव
गूगल ने बताया है कि वह इस नई तकनीक के जरिए अपने उपभोक्ताओं द्वारा इस्तेमाल में लाई जाने वाली वेबसाइटों और दूसरी सेवाओं के बारे में कहीं अच्छी तरह से आंकड़े जमा कर पाएगी।
वार्ता
Updated: February 27, 2013, 6:26 AM IST
सैन फ्रांसिस्को। इंटरनेट कंपनी गूगल अब सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक को टक्कर देने की दिशा मे एक और कदम आगे बढाते हुए एक नई सुविधा शुरू करने जा रही है जिसके जरिए गूगल प्लस खाता रखने वाले उपभोक्ता तमाम दूसरी वेबसाइटों और स्मार्टफोन एप्लीकेशन पर इसके जरिए आसानी से रजिस्टर कर पाएंगे।

गूगल ने मंगलवार को एक बयान जारी करके इस बारे में जानकारी दी। कंपनी ने बताया कि उसने दूसरी वेबसाइटों और मोबाइल एप्लीकेशन्स बनाने वाली कंपनियो को गूगल खाते के जरिए साइन इन सुविधा मुहैया कराने के लिए प्रोत्साहित करना शुरू किया है। फिंलहाल ब्रिटेन और अमेरिका के लोकप्रिय अखबारों द गार्जियन और यूएसए टुडे शॉपिंग वेबसाइट ‘फेंसी’ फिंटनेस से जुड़ी जानकारियां रखने वाली वेबसाइट ‘फिंटबिट’ ने गूगल प्लस खाते के जरिए साइन इन करने की सुविधा उपलब्ध करानी शुरू कर दी है।

गूगल ने बताया है कि वह इस नई तकनीक के जरिए अपने उपभोक्ताओं द्वारा इस्तेमाल में लाई जाने वाली वेबसाइटों और दूसरी सेवाओं के बारे में कहीं अच्छी तरह से आंकड़े जमा कर पाएगी। फेसबुक ने साल 2008 में अपने उपभोक्ताओं की जानकारियां इकटठा करने के इस कार्यक्रम की शुरुआत की थी। इसके जरिए उपभोक्ता अपने फेसबुक खाते का ही इस्तेमाल करके दूसरी वेबसाइटों पर नया खाता बना सकते थे और उन साइटों पर उपभोक्ता की गतिविधियों की जानकारी फेसबुक के पास पहुंच जाती थी।
गूगल ने भी साल 2011 मे फेसबुक की तर्ज पर अपनी नई सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट गूगल प्लस की शुरुआत की थी। कंपनी की ईमेल सेवा ‘जीमेल’ पर खाता बनाने के साथ ही उपभोक्ताओं के पास गूगल प्लस पर खाता बनाने की सुविधा भी उपलब्ध रहती है। फेसबुक के साथ जहां इस वक्त दुनिया के एक अरब लोग जुड़े हुए हैं वहीं गूगल प्लस के उपभोक्ताओ की संख्या महज 10 करोड़ है।

First published: February 27, 2013
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर