सेहत ही नहीं, आपकी सुंदरता भी बढ़ाते हैं ये फल

News18Hindi

Updated: February 17, 2017, 5:35 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

आपकी सुंदरता आपके खानपान पर काफी निर्भर करती है. फलों के सेवन से त्वचा के रोगों से मुक्ति पाकर आप चमचमाती त्वचा पा सकती हैं. अगर आप फल खाने का शौक फरमाती हैं, तो निरोगी काया, आभायामन त्वचा आपको अपने आप ही मिल जाएगी. फल खाने से बाहरी और आंतरिक दोनों सौंदर्य में निखार आता है. इन फलों के खाने से आपको सबसे ज्यादा फायदा होता है.

आम

सेहत ही नहीं, आपकी सुंदरता भी बढ़ाते हैं ये फल
आपकी सुंदरता आपके खानपान पर काफी निर्भर करती है. फलों के सेवन से त्वचा के रोगों से मुक्ति पाकर आप चमचमाती त्वचा पा सकती हैं.

आम को फलों का राजा कहा जाता है आम विटामिन ए, सी, ई, के, मिनरल, कैल्शियम और मैग्निशियम से परिपूर्ण होते हैं, जो प्रभावी एंटी आक्सीडेंट होते है. आम त्वचा में ताजगी यौवनपन और गोरापन लाने में मदद करते हैं. यह त्वचा में झुर्रियां और बुढ़ापे को रोकने में भी मदद करते है. आम न केवल शरीर के सामान्य संतुलन को बनाए रखते हैं, बल्कि इनके आहार से त्वचा और बाल मुलायम होते हैं.

नींबू

नींबू विटामिन- सी और मिनरल का स्त्रोत माना जाता है. सौंदर्य सामग्री के तौर पर नींबू को कई प्रकार से प्रयोग किया जा सकता है. नींबू को पानी मिलाकर ही प्रयोग में लाना चाहिए वर्ना इससे त्वचा को नुकसान भी हो सकता है. नींबू के गाढ़े घोल के प्रयोग से बचना चाहिए. हालांकि घुटनों कोहनियों में नींबू के छिल्कों को सीधे रंगड़कर बाद में पानी से धोया जा सकता है. नींबू के लगातार प्रयोग से त्वचा साफ और गोरी बन जाती है.

नींबू को हैंड लोशन की तरह भी प्रयोग में लाया जा सकता है, हल्के नींबू रस को गुलाब जल में मिलाकर हाथों की त्वचा से मलिए. खुरदरें हाथों के लिए नींबू जूस और दानेदार चीनी के मिश्रण को हाथेां की त्वचा पर तब तक मलिए जब तक चीनी पूरी तरह घुल न जाए, इसके थोड़ी देर बाद हाथों को ताजे पानी से धो डालें. इस मिश्रण के लगातार उपयोग से हाथों की त्वचा मुलायम होती है.

पपीता

पपीता विटामिन ए, बी, सी,  मैग्निशियम से परिपूर्ण एंटी आक्सीडेंट होता है. पपीते में पपेन नाम का एनजाईम होता है, जो त्वचा की मृतक कोशिकाओं को हटाने में मददगार साबित हेाता है. पपीते के नियमित सेवन से त्वचा की रंगत में निखार आता है. पक्के पपीते को चेहरे पर लगाया जा सकता है. पके पपीते को जेई के आटे, दही और शहद में मिलाकर फेस मास्क तैयार किया जाता है. इस फेस मास्क को चेहरे पर लगाने के 20-30 मिनट बाद चेहरे को साफ पानी से धो डालें.

केला

केला पोटैशियम और विटामिन-सी का सबसे बड़ा स्त्रोत माना जाता है. केला त्वचा और बालों दोनों के सौंदर्य में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है. केले को फेस और हेयर पैक दोनों के लिए प्रयोग में लाया जा सकता है. बार-बार बालों के रंगने से अन्य रसायनिक उपचारों से बालों को पहुंची क्षति से उभारने में केला अहम भूमिका निभाता है. केले को मसलकर पैक की तरह चेहरे पर लगाकर 20 मिनट बाद चेहरे को पानी से धो डालें.

अगर आपके बाल शुष्क हो तो एक चम्मच ग्लिसरीन या शहद को केले के पैक में मिलाएं. केले के हेयर पैक में बादाम तेल भी मिलाया जा सकता है.

सेब

सेब में पेक्टिन पाई जाती है, जो संवेदनशील त्वचा के लिए काफी सहायक मानी जाती है. सेब ‘स्किन टोनर’’ माना जाता है, जो त्वचा को मजबूत बनाने और रक्त संचार में अहम भूमिका अदा करता है. सेब में एंटी ऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा में ऑक्सीडेशन हानि को रोकने में प्रभावी भूमिका अदा करते हैं. सेब में फ्रूट एसिड होता है जो त्वचा को साफ करने में अहम भूमिका अदा करता है.

सेब के जूस को प्रतिदिन त्वचा पर 20 मिनट तक लगाकर इसे ताजे पानी से धोएं. सेब को पीसकर इसे फेस मास्क में सम्मलित किया जा सकता है. जेई को दही, शहद और सेब की लुगदी में मिलाकर पेस्ट बना लें, इस मिश्रण को चेहरे पर 20-30 मिनट तक लगाने के बाद चेहरे को पानी से धोएं. इससे चेहरे पर निखार आएगा.

shahnaz

First published: February 17, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp