क्‍लास में फर्स्‍ट आना इतना मुश्किल भी नहीं है, बस थोड़ी मेहनत करनी होगी


Updated: May 18, 2017, 5:44 PM IST
क्‍लास में फर्स्‍ट आना इतना मुश्किल भी नहीं है, बस थोड़ी मेहनत करनी होगी

Updated: May 18, 2017, 5:44 PM IST
यूं तो क्लास में पहला स्थान पाने का कोई कोर्स नहीं होता. सिर्फ लगन, परिश्रम और दृढ़ता के साथ अपने लक्ष्‍य के लिए काम करते रहना ही जरूरी होता है. ऐसा करके भी फर्स्‍ट आने की कोई गारंटी नहीं है, लेकिन जीवन में सफल होने की गारंटी जरूर है.

गारंटी कार्ड के साथ तो सिर्फ बाजार की स्‍कीम आती है. जीवन किसी गारंटी कार्ड के साथ नहीं चलता. इसलिए क्‍लास में फर्स्‍ट आने का आपका सपना भी कड़ी लगन से जरूर साकार हो सकता है. बस जरूरत है तो कठिन मेहनत और एक निश्चित दिनचर्या का पालन करने की.

इसलिए आज हम आपको बता रहे हैं, कुछ ऐसे तरीके जिनका पालन करके आप भी पढ़ाई में अच्‍छे अंक ला सकते हैं और शायद क्‍लास में फर्स्‍ट भी आ सकते हैं.

1. अपना होमवर्क को टाइम पर करें- यह सबसे पहले और सबसे जरूरी बात है. इसके बगैर आप क्लास में फर्स्‍ट आने के बारे में सोच भी नहीं सकते. इसलिए सतर्क रहें, अनुशासित रहें और क्‍लास में अपना काम हमेशा पूरा रखें.



2. समय का उपयोग बुद्धिमानी से करें- समय कितना मूल्यवान है, इसे तो शब्दों में बताया नहीं जा सकता. और क्लास का टॉपर बनना आपसे समय के सदुपयोग की मांग करता है. सामान्‍य सी बात है कि जो जीवन में बड़े काम करते हैं, सफल होते हैं, क्‍लास में फर्स्‍ट आते हैं, दिन उनका भी 24 घंटे का ही होता है. सारा खेल सिर्फ समय को अनुशासित ढंग से बरतने का है. उसे गंवाने की बजाय उसके सही इस्‍तेमाल का है.

3. प्रैक्टिस बहुत जरूरी है- चाहे होमवर्क हो या क्लासवर्क, आप जितना ज्यादा अभ्यास करेंगे, चीजें आपके लिए उतनी ही आसान होती जाएंगी. यदि आप कोर्स से इतर किसी विषय की कोई किताब पढ़ते हैं तो यह बहुत उपयोगी है. इससे आपकी जानकारी बढ़ेगी और उस विषय पर आपकी पकड़ मजबूत होगी.



4. अपने विषय को लेकर अपडेट रहें – किताबी कीड़ा बनना अच्‍छी बात नहीं है. इसलिए कोर्स की किताब के अलावा अपने विषय से जुड़ी अन्‍य चीजें भी पढ़ते रहें. उस विषय पर हो रहे नए शोध के बारे में अपनी जानकारियां अपडेट रखें.

5. नोट्स जरूर बनाएं- नोट्स बनाना थोड़ा मुश्किल काम होता है, मगर यह बहुत जरूरी होता है. इससे विषय के महत्वपूर्ण सवाल और उनके जवाब समझने में आसानी होती है.

6. टेस्ट से पहले रिवाइज जरूर करें- एग्जाम के पहले रिवीजन बहुत जरूरी है, जिससे पढ़ी हुई चीजें दोबारा से याद हो जाएं.



7. पढाई और टेस्ट के दौरान सकारात्मक रहें- जितना सकारात्मक आपको पढ़ाई के दौरान रहना चाहिए, उससे ज्यादा कूल और सकारात्मक एग्जाम हॉल में भी रहना चाहिए. लंबी सांस लें और आराम से क्वेश्चन पेपर हल करना शुरू कर दें.

8. सक्रिय रहें और हमेशा क्लास में उपस्थित रहें- इससे आप क्लास के प्रत्येक क्षण को न सिर्फ एन्जॉय करेंगे बल्कि आपके नॉलेज की भी टेस्टिंग होती रहेगी. क्लास में रेगुलर रहने का मतलब है अपनी टीचर की नजर में रहना. यह आपके लिए हर नजरिये से बहुत अच्छा होता है.

9. गलत संगत से बचें- गलत संगत में रहकर आप कभी भी कुछ अच्छा नहीं कर सकते. अच्‍छे, पढ़ने वाले दोस्‍तों की संगत करें.

10. टीचर्स के साथ अच्छा व्यवहार रखें- टीचर्स का हमेशा सम्मान करें और हमेशा सीखने के लिए उत्सुक रहें. उनका कभी भी नजाक न उड़ाएं. आपको उनकी भी नजर में भी एक टॉपर बनना है.



11. खूब पढ़ें – अपनी पढ़ाई को सिर्फ कोर्स की किताबों तक ही सीमित न रखें. रोजाना अखबार पढ़ें और देश-विदेश की घटनाओं के बारे में भी खुद को अपडेट रखें. यह सारा अध्‍ययन आपके काम आएगा. आप टेस्‍ट और क्विज के लिए हमेशा तैयार रहेंगे.

12. साफ़ और सही लिखें- आपकी हैंड राइटिंग साफ, सुंदर होनी चाहिए. लिखावट बिलकुल साफ हो ताकि कॉपी आसानी से पढ़ी जा सके. याद रखें, आपकी लिखावट ही परीक्षा की कॉपी में पहला इंप्रेशन डालती है.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर