Zomato ने किया हैकर्स के साथ समझौता, बेचने की बजाए डिलीट करेंगे यूजर डाटा

भाषा
Updated: May 19, 2017, 10:43 PM IST
Zomato ने किया हैकर्स के साथ समझौता, बेचने की बजाए डिलीट करेंगे यूजर डाटा
पिछले दो साल में दूसरी बार जोमैटो के डाटा से छेड़छाड़ हुई है.
भाषा
Updated: May 19, 2017, 10:43 PM IST
ऑनलाइन फूड ऑर्डर ऐप जोमैटो ने लाखों यूजर्स की डिटेल चोरी होने के बाद हैकरों से संपर्क कर उन्हें यूजर डाटा डिलीट करने के लिए राजी कर लिया है. जिस हैकर ने डाटा बेचने की पेशकश की थी जोमैटो उसके संपर्क में है. कंपनी के अनुसार हैकर ने चुराए गए डाटा की सभी कॉपियां डिलीट करने पर सहमति जताई है.

गुरुवार को कंपनी ने जानकारी दी थी कि ऐप के 1.7 करोड़ यूजर्स से जुड़ी जानकारी साइबर सेंधमारों ने चुरा ली है. हालांकि कंपनी ने कहा था कि यूजर्स की पेमेंट इन्फॉर्मेशन सुरक्षित है. कंपनी के फिलहाल 120 मिलियन यूजर हैं.

कंपनी ने ये भी कहा है कि वो अपने ग्रहकों को अकाउंट सुरक्षा की जानकारी दे रहे हैं. कंपनी का कहना है कि वो इन यूजर्स से संपर्क करेगी ताकि सभी तरह की सेवाओं के लिए उनके समान पासवर्ड को बदलवाया जा सके.

जोमैटो में डाटा चोरी का ये मामला ऐसे समय में सामने आया है जब दुनिया भर में रेंसमवेयर वानाक्राई साइबर हमले की चर्चा है. दो साल में ये दूसरी बार है जब जोमैटो का डाटा चोरी हुआ है.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर