मलाला से दुनिया की लड़कियों ने क्या सीखा?


Updated: July 13, 2017, 6:05 PM IST
मलाला से दुनिया की लड़कियों ने क्या सीखा?
मलाला युसुफजई ने 20 साल की उम्र में लड़कियों को बहुत कुछ सिखा दिया.

Updated: July 13, 2017, 6:05 PM IST
तृप्ती बहुखंडी

12 जुलाई 1997 को पाकिस्तान में जन्मी मलाला युसुफजई ने 2008 से शिक्षा के क्षेत्र में महिलाओं के अधिकार के लिए लड़ाई शुरू की थी. इसके अलावा मलाला तालिबानों के बीच में रहकर महिलाओं के लिए आगे बढ़ने की प्रेरणा बनी. 2014 में मलाला को नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा गया था. महिलाओं के लिए शिक्षा को अनिवार्य बनाए जाने की मुहिम चलाते हुए मलाला तालिबान की गोलियों का शिकार भी हुईं. इस बार मलाला ने अपना 20वां जन्मदिन इराक के एक पार्क में उन लड़कियों के साथ मनाया, जिन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा और स्कूल ISIS के कारण छोड़ दिया था.

मलाला अपने लिए और अपनी देश की सभी लड़कियों के लिए एक मिसाल हैं. उनकी जिंदगी से लड़कियों ने बहुत कुछ सीखा है. तो आइये जानते हैं मलाला की ज़िन्दगी की कुछ ऐसे बातें, जिनकी वजह से वह आज इस मुकाम पर पहुंची हैं.

बिना हिचकिचाए अपनी बात रखें

मलाला ने 16 साल की उम्र में ही पूरे विश्व की लड़कियों को ये सीख दे दी थी कि अपनी बात को बेझिझक सबके सामने रखें, क्योंकि जब तक आप अपनी बात नहीं रखेंगे, तब तक किसी को ये पता नहीं चलेगा कि आप क्या चाहती हैं या फिर आपके मन में क्या चल रहा है.

अपने सपनों को सच कर दिखाएं
मलाला का कहना है कि जिंदगी में कोई काम छोटा या बड़ा नहीं होता. हर इंसान को सपने देखने का पूरा हक है और अपने सपनों को सच करने में कोई कमी नहीं रखनी चाहिए.

बदले की भावना से दूर रहें
2012 में ISIS ने मलाला के सर पर गोली मार दी थी. हालांकि उसके बाद लंबे समय तक उनका इलाज लंदन में चला और वो ठीक हो गईं, लेकिन मलाला ने कभी किसी के लिए कोई बदले की भावना नहीं रखी क्योंकि उनका मानना है कि बदले की भावना से केवल आपका समय खराब होता है.

कभी हिम्मत न हारें
मलाला का कहना है कि परेशानी चाहे कितनी भी बड़ी क्यों न हो, आपको कभी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए. अगर उस काम को कोई दूसरा व्यक्ति कर सकता है तो आप भी कर सकते हैं. इसलिए सकारात्मक लोगों के बीच रहें और प्रेरणा लें.

प्यार और दोस्ती की भावना रखें
मलाला ने बताया कि किसी से नफरत करने से आपकी शक्ति कम हो जाती है. लेकिन प्यार और दोस्ती आपको हिम्मत देती है और आपकी शक्ति बढ़ाती है. इसलिए जब आप लोगों से प्यार करेंगें तो आपको भी प्यार मिलेगा.

हमेशा शुक्रगुजार रहें
आपको जो कुछ भी मिला है, कभी भी उसे कम मत समझिए. क्योंकि कोई भी चीज छोटी या बड़ी नहीं होती है. इसलिए जो मिला है, उसके लिए शुक्रगुजार रहिये.

हमेशा दूसरों की मदद करें
मलाला का ऐसा मानना है कि जब भी आप किसी की मदद करते हैं तो ये आपको भी खुशी देता है और खुशी से ज्यादा कीमती चीज दुनिया में कुछ भी नहीं है. इसलिए बिना किसी स्वार्थ के आप दूसरों की मदद करें.

दूसरों की तुलना खुद से न करें
इस दुनिया में कई तरह के लोग हैं. हर व्यक्ति में कुछ अच्छाई और कुछ बुराई होती है. जरूरी नहीं है कि हर कोई आपके जैसा ही हो. इसलिए दूसरों को देखकर कभी परेशान न हों. अगर आपको जीवन में सफलता पानी है और सुखी जीवन जीना है तो खुद की तुलना दूसरों से न करें.
First published: July 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर