अगर प्‍लानिंग सही हो तो 24 घंटे में भी हो सकती है 48 घंटों की पढ़ाई

News18Hindi
Updated: May 18, 2017, 9:13 PM IST
अगर प्‍लानिंग सही हो तो 24 घंटे में भी हो सकती है 48 घंटों की पढ़ाई
News18Hindi
Updated: May 18, 2017, 9:13 PM IST
कहते हैं वक्‍त धन से भी ज्‍यादा कीमती है. गया हुआ धन तो एक बार वापस आ जाएगा, लेकिन जो समय हाथ से निकल गया, फिर वह कभी लौटकर वापस नहीं आएगा. इसलिए जरूरी है कि हमारे हाथों से हर क्षण फिसल रहे समय का हम सही उपयोग करें. उसे किसी ठोस रचनात्‍मक काम में खर्च करें. समय को व्‍यर्थ न गंवाए.

समय के सदुपयोग का यह पाठ छात्र जीवन से ही सीखना बहुत जरूरी है. इसलिए हम आपको बता रहे हैं कि अपने 24 घंटों के दिन का ज्‍यादा से ज्‍यादा रचनात्‍मक इस्‍तेमाल कैसे किया जाए.

1. हर दिन की एक “टू डू लिस्ट” बनाएं- रोज सुबह उठकर दिन भर किए जाने वाले कामों की एक लिस्‍ट बना लें. सबसे महत्वपूर्ण कामों को इस लिस्‍ट में सबसे ऊपर रखें. रोज रात में इस लिस्‍ट की समीक्षा करें कि लिखे गए कामों में से कितने आप सफलतापूर्वक कर पाए और कितने बाकी रह गए. अगले दिन कोशिश करें कि एक बार काम रात तक अधूरा न रहे. अपनी लिस्ट में उन कामों को भी जगह दें, जिन्हें आप करना चाहते हैं या जो आपको पसंद हैं. अपने आप को प्रेरित करते रहें.



2. अपने काम को अपने साथ रखें – कुछ काम ऐसे भी होते हैं, जो आप ट्रेन या बस में यात्रा करते समय या किसी का इंतजार करते हुए भी कर सकते हैं. जैसेकि कोई जरूरी होमवर्क, किताब पढ़ना या किसी प्रैक्टिकल की तैयारी.



3. ना कहने से डरें मत- उस समय ना कहने में कोई बुराई नहीं है, जब आपको कोई दोस्‍त रात में मूवी देखने चलने के लिए कहे और अगली सुबह आपका कोई टेस्ट हो या आपकी पढ़ाई पूरी नहीं हुई हो.

4. अपने बेस्ट समय की तलाश करें- आपको यह समझने की जरूरत है कि आप सुबह जल्‍दी उठकर पढ़ाई कर पाते हैं या रात में देर तक जागकर. वैसे सुबह जल्‍दी उठकर पढ़ना स्‍वास्‍थ्‍य और एकाग्रता के लिहाज से बेहतर होता है. फिर भी आप अपनी सुविधा के हिसाब से समय का चुनाव करें और एकाग्र होकर पढ़ें.



5. स्‍टडी का टाइम टेबल बनाएं- टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई करें. जब पढ़ने का समय हो तो मोबाइल, टीवी, कंप्‍यूटर सब बंद कर दें और सिर्फ पढ़ाई पर ध्‍यान केंद्रित करें.

6. अपने समय का एक बजट बनाएं- आप कितना समय कहां-कहां खर्च करते हैं, इसका एक खाका तैयार करें. फिर उसी के अनुसार एक वीकली शेड्यूल बनाएं और उसका पालन करें. और यही भ तय करें कि आपके पास कितना फ्री टाइम है. और हाँ, पढ़ाई के बीच आराम और मनोरंजन के लिए भी थोड़ा समय निकालें.

7. किसी से तुलना न करें- अपनी तरफ से मन लगाकर और मेहनत से पढ़ें, लेकिन अपने नंबरों और परफॉर्मेंस की तुलना किसी और से न करें. आपका मुकाबला किसी और से नहीं, बल्कि खुद अपने आपसे है. अपनी तरफ से अपना बेस्‍ट करने की कोशिश करें.



8. टीचर से पूछने में झिझकें नहीं – अगर आपको कोई विषय समझ में नहीं आ रहा है तो उसे ही लेकर घंटों बैठे न रहें. इससे समय का काफी नुकसान होता है. उस विषय को छोड़कर दूसरे विषय की पढ़ाई करें और अगले दिन स्‍कूल में तुरंत टीचर से उस समस्‍या का हल पूछें, जहां आप फंसे थे. टीचर से सवाल करने में बिलकुल न डरें, न झिझकें.

9. रात में अच्छी नींद लें- आपका दिमाग स्‍वस्‍थ और सक्रिय ढंग से काम कर सके, इसके लिए जरूरी है कि उसे पूरा आराम भी मिले. दिमाग को आराम देने के लिए जरूरी है कि आप समय पर सोएं और गहरी नींद सोएं. इसलिए सोने के समय पर सारे काम छोड़कर सो जाएं. रात में बचे हुए कामों की लिस्‍ट बना लें और उसे सुबह जल्‍दी उठकर पूरा करें.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर