कांग्रेस MLA पर होटल कारोबारी से 10 लाख 'फिरौती' मांगने का आरोप


Updated: May 20, 2017, 1:44 PM IST
कांग्रेस MLA पर होटल कारोबारी से 10 लाख 'फिरौती' मांगने का आरोप
नीतेश राणे (file photo: PTI)

Updated: May 20, 2017, 1:44 PM IST
महाराष्ट्र में कांग्रेस विधायक नीतेश राणे के खिलाफ फिरौती मांगने का आरोप लगा है. मुंबई के सांताक्रूज थाने में नीतेश समेत तीन के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है. आरोपों के मुताबिक जुहू स्थित एक होटल में हिस्सेदारी को लेकर नीतेश ने धमकी दी और 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी.

मामले में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है. नीतेश पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे हैं और फिलहाल कंकावली से विधायक हैं.

क्या है मामला ?
जुहू रोड में अक्टूबर 2016 में निखिल मिराणी और हितेश केसवानी ने एस्टेल नाम का एक होटल शुरू किया था. नीतेश राणे ने दोनों को इस होटल में हिस्सेदारी देने का प्रस्ताव रखा. दोनों कारोबारियों ने नीतेश के प्रस्ताव को खारिज कर दिया. आरोपों के मुताबिक पिछले छ महीने से नीतेश होटल में हिस्सेदारी की मांग कर रहे थे.

कारोबारियों ने लगाया ये आरोप
गुरुवार शाम 7.30 बजे के करीब नीतेश राणे ने कारोबारियों को फिर से हिस्सेदारी देने के लिए कहा. इस बार प्रस्ताव नकारने पर नीतेश ने होटल बंद करने की धमकी भी दी. आरोपों के मुताबिक घटना के बाद रात आठ बजे के करीब दो लोग होटल में घुसे. इस दौरान होटल में मौजूद 60 ग्राहकों से धक्का-मुक्की कर उन्हें बाहर निकालने की कोशिश की गई. आरोपों के मुताबिक एक नेता के नाम पर दोनों ने होटल में तोड़-फोड़ की. घटना के तुरंत बाद केसवानी और मिराणी ने पुलिस को इसकी जानकारी दी. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

बता दें कि केसवानी की शिकायत पर सांताक्रुज पुलिस ने नीतेश राणे, शेख और अंसारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. इस मामले में नीतेश राणे को जल्दी गिरफ्तार भी किया जा सकता है. हालांकि अभी नीतेश की प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है.

पराग संघवी को हिस्सेदारी देने के लिए दबाव
केसवानी के आरोपों के मुताबिक 2016 में सांताक्रुज में हुई एक बैठक के दौरान राणे ने पी. बी. रियल्टी के पराग संघवी को होटल में 50 प्रतिशत हिसेदारी देने को कहा था. आरोप है कि पराग के लिए होटल खाली कराने के नाम पर नीतेश राणे ने पैसे भी लिए हैं. मामले की जांच अभी जारी है.
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर