EVM को लेकर आप के आरोप पर चुनाव आयोग देगा हैकरों को खुली चुनौती

भाषा
Updated: May 19, 2017, 7:55 PM IST
EVM को लेकर आप के आरोप पर चुनाव आयोग देगा हैकरों को खुली चुनौती
File Photo: EVM (news18.com)
भाषा
Updated: May 19, 2017, 7:55 PM IST
पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव और दिल्ली एमसीडी चुनाव के बाद आम आदमी पार्टी ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी होने का आरोप लगाया था. आप के विधायक सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली विधानसभा में लाइव डेमोंस्ट्रेशन देकर यह साबित करने की कोशिश की थी कि ईवीएम के नतीजों को बदला जा सकता है. इन आरोपों को गलत साबित करने के लिए चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को खुली चुनौती देने की तैयारी कर ली है. आयोग शनिवार को ओपन चैलेंज की तारीख का ऐलान करेगा.

मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने 12 मई को इस मुद्दे पर राजनैतिक पार्टियों के साथ बैठक की थी, बैठक के बाद ऐलान किया गया था कि पार्टियों को अपने आरोपों को सही साबित करने का मौका दिया जाएगा. आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राजनीतिक दलों को 29 मई के बाद कभी भी ईवीएम में गड़बड़ी साबित करने की चुनौती दी जा सकती है.

इसके लिए शनिवार को संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, इस सम्मेलन में आयोग ओपन चैलेंज के लिए तारीख की घोषणा करेगा. अधिकारी ने बताया कि सभी सात राष्ट्रीय दल और 48 राज्य स्तरीय दलों को खुली चुनौती में हिस्सा लेने के लिये बुलाया जाएगा. इस ओपन चैलेंज में सभी इच्छुक दलों को हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों के किसी भी मतदान केंद्र की मशीन के साथ छेड़छाड़ करने का मौका दिया जाएगा. चुनौती स्वीकार करने के लिए राजनैतिक दलों को एक सप्ताह का मौका दिया जाएगा, इसके बाद दावा करने वाले दलों को इसके लिए अलग-अलग मौका दिया जाएगा.

अधिकारी ने बताया कि उच्चतम न्यायालय ने आयोग को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले वीवीपेट युक्त ईवीएम से मतदान कराने की तैयारी करने का आदेश दिया था. इसके पालन को सुनिश्चित करने के लिये आयोग ने लोकसभा चुनाव से पहले ही इस साल के अंत में होने वाले गुजरात और हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भी वीवीपेट युक्त ईवीएम से चुनाव कराने की तैयारी कर ली है.

उन्होंने बताया कि दोनों राज्यों के विधानसभा चुनाव कराने के लिये आयोग के पास लगभग 50 हजार वीवीपेट मशीनें पहले से मौजूद हैं. इस बीच आयोग ने मशीनों की खरीद प्रक्रिया शुरू करने की तैयारी तेज कर दी है.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर