औद्योगिक उत्पादन बढ़कर 5.7 फीसदी, खुदरा महंगाई गिरी

First published: January 12, 2017, 9:35 PM IST | Updated: January 12, 2017, 9:35 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
औद्योगिक उत्पादन बढ़कर 5.7 फीसदी, खुदरा महंगाई गिरी
बिजली उत्पादन में 8.9 फीसदी और खनन में 3.9 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई.

नोटबंदी के बाद औद्योगिक उत्पादन में तेजी देखने को मिली है और नवंबर में यह बढ़कर 5.7 फीसदी रही. वहीं, दिसंबर में खुदरा मुद्रास्फीति में गिरावट देखी गई और यह 3.41 फीसदी, जबकि नवंबर में यह 3.63 फीसदी थी.

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) के मुताबिक पिछले साल अक्टूबर में औद्योगिक उत्पादन में 1.81 फीसदी गिरावट आई थी, जबकि उसके पिछले साल के समान महीने के मुकाबले यह गिरावट 3.4 फीसदी थी.

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक औद्योगिक उत्पादन में बढ़ोतरी का मुख्य कारण विर्निमाण उत्पादन में हुई 5.5 फीसदी की बढ़ोतरी है, जिसका कुल सूचकांक में सबसे ज्यादा योगदान है.

अन्य दो महत्वपूर्ण उपसूचकांकों में बिजली उत्पादन में 8.9 फीसदी और खनन में 3.9 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई.

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) के मुताबिक खुदरा मुद्रास्फीति दिसंबर में पिछले साल के समान अवधि के मुकाबले 5.61 फीसदी कम रही.

सीपीआई में यह गिरावट मुख्यत: वार्षिक खाद्य मुद्रास्फीति में गिरावट के कारण आई है जो दिसंबर में 1.37 फीसदी और नवंबर में 2.03 फीसदी रही थी.

सीपीआई के आंकड़ों से पता चलता है कि ग्रामीण भारत की खुदरा मुद्रास्फीति दर दिसंबर में 3.83 फीसदी रही, जबकि शहरी क्षेत्रों में यह 2.90 फीसदी रही. वार्षिक मुद्रास्फीति की दर ग्रामीण क्षेत्रों में 2.06 फीसदी तथा शहरी क्षेत्रों में 0.15 फीसदी रही.

facebook Twitter google skype whatsapp