प्रॉपर्टी रिकॉर्ड्स को आधार से लिंक करने की खबर अफवाह

फर्स्टपोस्ट.कॉम
Updated: June 20, 2017, 9:35 AM IST
प्रॉपर्टी रिकॉर्ड्स को आधार से लिंक करने की खबर अफवाह
(PTI Photo)
फर्स्टपोस्ट.कॉम
Updated: June 20, 2017, 9:35 AM IST
नोटबंदी के बाद भारत सरकार ने बैंक अकाउंट खुलवाने और 50 हजार से ज्यादा रुपए जमा करने पर आधार देना अनिवार्य किया था. इसके बाद अब खबर आई थी प्रापर्टी रिकॉर्ड्स को भी आधार से लिंक किया जाएगा. खबर यह थी कि सरकार ने 1950 के बाद सभी प्रॉपर्टी रिकॉर्ड्स को आधार से जोड़ना अनिवार्य कर दिया है.

खबर में कहा गया कि इसके लिए समय सीमा 14 अगस्त तय की गई है. इतना ही नहीं इस खबर के साथ सरकार की तरफ से जारी पत्र भी खूब शेयर हो रहा था.

यह पत्र बाकायदा कैबिनेट सेक्रेटेरिएट की तरफ से भेजा गया था. इसमें कहा गया था कि डिजिटल इंडिया लैंड रिकॉर्ड्स मॉडर्नाइजेशन प्रोग्राम (डीआईएलआरएमपी) के तहत सरकार ने प्रॉपर्टी रिकॉर्ड्स को आधार से जोड़ना अनिवार्य कर दिया है.

सूत्रों के अनुसार, सरकार ने इस खबर और झूठे लेटर को गंभीरता से लिया है और मामले की जांच की जा रही है.






अगर ऐसा होता तो क्या होता?

आपको बता दें कि अगर यह खबर सही होती तो रियल एस्टेट में काला धन खपाने की हरकतों पर काफी हद तक लगाम लगाई जा सकती है
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर