घर में ही 8 साल से रेप कर रहा था साधु, लॉ स्टूडेंट ने ऐसे लिया बदला

News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 11:59 AM IST
घर में ही 8 साल से रेप कर रहा था साधु, लॉ स्टूडेंट ने ऐसे लिया बदला
TV Grab/CNN-News18
News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 11:59 AM IST
तिरुवनंतपुरम में 23 साल की लॉ स्टूडेंट द्वारा धारदार हथियार से साधु के प्राइवेट पार्ट को काटने का मामला सामने आया है. आरोप है कि पिछले आठ साल से उसके घर में ही उसके साथ रेप कर रहा था. वह जब 16 साल की थी तो आरोपी ने सबसे पहले उसके साथ रेप किया था.

थाने में महिला द्वारा दर्ज कराई गई रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी स्वामी गंगेशानंद कोल्लम के पनमाना आश्रम का सदस्य है. उसकी उम्र 54 साल है. शुक्रवार की रात को आरोपी ने एक बार फिर से उसके साथ रेप की कोशिश की. इसके बाद उसने एक धारधार हथियार से स्वामी के प्राइवेट पार्ट पर हमला कर दिया.

वारदात के तुरंत बाद घायल आरोपी त्रिवेंद्रम हॉस्पिटल में इलाज के लिए भागा, जहां उसकी सर्जरी हुई. अस्पताल के स्टाफ के मुताबिक, आरोपी का प्राइवेट पार्ट 90 फीसदी तक कट गया है और वह इस स्थिति में नहीं है कि उसे दोबारा जोड़ा जा सके.

आरोपी साधु के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (बलात्‍कार) और पॉक्‍सो के तहत मामला दर्ज कर लिया है. हालांकि में दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक उसने थाने में कहा है कि उसने खुद ही अपने प्राइवेट पार्ट को काटा है.

इधर, केरल की राज्य महिला आयोग की सदस्य प्रमिला देवी ने इस घटना पर कहा, हमें उस लड़की पर गर्व है. खासतौर पर ऐसे मामले जहां पर धर्म के नाम पर शोषण होता है, वहां इस तरह के मामले कतई स्वीकार्य नहीं हैं. वह लड़की समाज के लिए एक रोल मॉडल है.

लोकल मीडिया के मुताबिक, इस मामले में महिला की मां को भी हिरासत में लिया गया है. बताया जा रहा है कि महिला के साथ हो रही ज्यादती की जानकारी उसे पहले से थी, लेकिन उसने इसकी शिकायत नहीं की. लॉ की छात्रा ने पुलिस रिपोर्ट में कहा है, उसके पिता कुछ सालों से पैरालाइसिस से पीड़ित हैं. आरोपी ने उसकी मां के साथ भी यौन शोषण किया.

पनामा आश्रम ने एक बयान जारी करते हुए कहा, स्वामी यहां पढ़ने आया था. 15 साल पहले उसकी पढाई पूरी हो गई थी, जिसके बाद उसने आश्रम छोड़ दिया था. बताते चलें कि इस आश्रम की स्थापना समाज सुधारक छतम्बी स्वामिकल ने की थी.
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर