79% अंक लाने पर भी नहीं मिला एडमिशन, तो पढ़ाई छोड़ बन गया किसान

News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 7:57 PM IST
79% अंक लाने पर भी नहीं मिला एडमिशन, तो पढ़ाई छोड़ बन गया किसान
Photo taken form facebook
News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 7:57 PM IST
एक लड़के ने रात-दिन पढ़ाई की ताकि वो 12वीं में अच्छे नंबर लाकर अपने सपने पूरे कर सके. कॉलेज में एडमिशन पाकर वो भी सफल व्यक्ति बनना चाहता था. रिजल्ट आया तो 79.7 प्रतिशत देखकर उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा, क्योंकि उसका सपना उसके नजदीक आ गया था. लेकिन उसे क्या पता था कि जल्द ही उसका सपना टूट जाएगा.

ये पूरा मामला केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम का है. जहां लीजो जॉय नाम के स्टूडेंट ने एक भावुक फेसबुक पोस्ट के जरिए अपना दर्द लोगों के साथ साझा किया है. अपनी पोस्ट में लीजो ने लिखा कि 12वीं के एग्जाम में उसे 79.7 पर्सेंट मार्क्स मिले थे, जिसके बाद उसने आगे की पढ़ाई के लिए कॉलेज में अप्लाई किया.



एक के बाद एक पांच सीट अलॉटमेंट हुए लेकिन किसी भी लिस्ट में लीजो का नाम नहीं था. इस बीच उसके वो दोस्त जिनके 50 प्रतिशत अंक आए थे उन तक को रिजर्वेशन के चलते एडमिशन मिल गया. इस सब से लीजो का दिल टूट गया और उसने पढ़ाई छोड़ खेती अपना ली.

लीजो ने अपनी पोस्ट के साथ ही एक फोटो शेयर किया है जिसमें वो फावड़े को पकड़े हुए हैं. उन्होंने लिखा कि ये पोस्ट उन जैसे स्टूडेंट की ओर ध्यान आकर्षित करने के लिए है, जिन्हें एजुकेशन सिस्टम में रिजर्वेशन के चलते आगे पढ़ने का मौका नहीं मिल पाता.

लीजो ने आगे लिखा कि उन्हें किसान होने पर गर्व है, लेकिन ये भी याद रखना चाहिए कि ये उन्होंने खुद नहीं चुना है, बल्कि शिक्षा व्यवस्था ने उन्हें किसान बनाया है.

लीजो का ये भावनात्मक पोस्ट तेजी से वायरल हो रहा है. इसे अब तक 12 हजार से ज्यादा शेयर मिल चुके हैं, वहीं करीब पांच हजार से ज्यादा लोगों ने लीजो के सपोर्ट में कमेंट किए हैं, जिनमें से कई ने रिजर्वेशन सिस्टम को बदलने की भी बात कही.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर