गायब हुईं 'बाल गंगाधर तिलक' के डोनेशन की फाइलें, फिल्म कभी बनी ही नहीं

भाषा
Updated: March 19, 2017, 8:23 PM IST
गायब हुईं 'बाल गंगाधर तिलक' के डोनेशन की फाइलें, फिल्म कभी बनी ही नहीं
फिल्म बाल गंगाधड़ तिलक के निर्माण के लिए डोनेट किए गए 2.5 करोड़ रुपये से जुड़ी फाइलें सरकार के रिकॉर्ड से गायब हो गई हैं.
भाषा
Updated: March 19, 2017, 8:23 PM IST
फिल्म 'बाल गंगाधर तिलक' के निर्माण के लिए डोनेट किए गए 2.5 करोड़ रुपये से जुड़ी फाइलें सरकार के रिकॉर्ड से गायब हो गई हैं. वैसे यह फिल्म कभी बनी ही नहीं. यह खुलासा केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) में सुनवाई के दौरान हुआ. आयोग केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय से जुड़े मामले की सुनवाई कर रहा था.

सूचना आयुक्त एम श्रीधर आचार्युलु ने कहा कि आयोग को पता चला है कि बाल गंगाधर तिलक पर फिल्म के निर्माण के लिए 2.5 करोड़ रुपये की मंजूरी और भुगतान के अहम रिकॉर्ड गायब हैं. बस केंद्रीय लोक सूचना (सीपीआईओ) और उप सचिव के बयान भर हैं. इस बात का कोई रिकॉर्ड नहीं है कि किसने फाइलें रखीं. आचार्युलु ने गायब फाइलों की जांच करने और आदेश प्राप्त होने के 60 दिन के भीतर कार्रवाई से संबंधित रिपोर्ट सौंपने का आदेश संस्कृति मंत्रालय को दिया है.

आरटीआई दाखिल करने पर हुआ खुलासा
वी आर कमलापुरकार द्वारा संस्कृति मंत्रालय को आरटीआई दाखिल करने पर इस बात का पता चला है. कमलापुरकार ने तिलक पर फिल्म से जुड़े रिकॉर्ड की मांग करते हुए संस्कृति मंत्रालय को आरटीआई दाखिल की थी. इस फिल्म को 2005 में मंजूरी दी गई थी. मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि निर्माता धूमले को यह फिल्म बनाने के लिए 2.5 करोड़ रुपये दिए गए थे लेकिन यह कभी बनी ही नहीं.

उपसचिव निर्मला गोयल ने कहा कि मंत्रालय को इस गबन का तब जाकर पता चला जब 2011 में कमालपुरकार ने आरटीआई आवेदन दिया. आचार्युलू ने कहा कि उन्होंने (गोयल ने) कहा कि दो किश्तों में विनय को पैसे दिए गए. लेकिन यह फिल्म कभी बनी ही नहीं और इस पैसे के उपयोग की कभी जांच नहीं हुई.

सीबीआई के पास भेजा गया मामला
सुनवाई के दौरान मंत्रालय के केंद्रीय जनसूचना अधिकारी अर्नब ऐच ने कहा कि यह मामला जांच के लिए सीबीआई के पास भेजा गया है लेकिन अंतिम रिपोर्ट का इंतजार है.

उन्होंने आयोग से कहा कि इस फिल्म की परियोजना के ब्योरे, उसकी मंजूरी, मौद्रिक विनिमय में शामिल रहे अधिकारियों से जुड़ी फाइलों का पिछले मंत्रालय के के रिकॉर्ड रूम में पता नहीं चल रहा है. उन्होंने कहा कि 2013 और 2017 के बीच रिकॉर्ड रूम को खंगाला गया लेकिन व्यर्थ रहा और फाइल को लापता बता दिया गया.
First published: March 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर