बजट समय से पहले पेश करने से रोकने का कानून नहीं : सुप्रीम कोर्ट

Agencies

First published: January 13, 2017, 5:29 PM IST | Updated: January 13, 2017, 5:29 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
बजट समय से पहले पेश करने से रोकने का कानून नहीं : सुप्रीम कोर्ट
Demo Pic

चुनाव से पहले आम बजट पेश करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को एक अहम टिप्पणी की है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कानून में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है, जिससे केंद्र सरकार को वर्ष 2017-18 का आम बजट निर्धारित समय से पहले पेश करने से रोका जा सके.

कोर्ट ने याचिकाकर्ता से पूछा कि वह कानून में इस तरह का कोई प्रावधान बताएं जिसके चलते सरकार को बजट समय से पहले पेश करने से रोका जा सके.

चीफ जस्टिस जे.एस. केहर और जस्टिस डी.वाई. चंद्रचूड़ की बैंच ने याचिकाकर्ता वकील एम.एल. शर्मा से कानून के उन प्रावधानों का उल्लेख करने को कहा जिससे केंद्र सरकार को एक फरवरी को बजट पेश करने से रोका जा सके.

बैंच ने शर्मा को बताया, "हमने इस बारे में प्रावधान ढूंढने की कोशिश की, लेकिन हमें नहीं मिले." बैंच ने याचिकाकर्ता से यह भी कहा कि कानून या संविधान के कौन से प्रावधानों का उल्लंघन हुआ है.

अदालत ने प्रावधानों को ढूंढने के लिए शर्मा को 20 जनवरी तक का समय दिया है, ताकि एक फरवरी को बजट पेश करने से रोका जा सके.

गौरतलब है कि सरकार इस बार आम बजट को फरवरी के अंत में पेश करने के बजाय एक फरवरी को पेश करने जा रही है.

facebook Twitter google skype whatsapp