कोहिनूर पर कुछ नहीं कह सकता सुप्रीम कोर्ट

News18Hindi
Updated: April 21, 2017, 3:18 PM IST
कोहिनूर पर कुछ नहीं कह सकता सुप्रीम कोर्ट
स्रोत: firstpost.com
News18Hindi
Updated: April 21, 2017, 3:18 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि वह ब्रिटेन को कोहिनूर लौटाने या नीलामी रोकने के आदेश नहीं दे सकते. कोर्ट ने हीरे को भारत लाने के लिए निर्देश देने संबंधी याचिका खारिज कर दी.

न्यायाधीश जगदीश सिंह केहर की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि कोर्ट एक विदेशी सरकार को संपत्ति की नीलामी के लिए नहीं कह सकता. कोर्ट ने यह स्पष्ट किया कि वह किसी दूसरी देश मौजूद में संपत्ति के संबंध में आदेश पास नहीं कर सकती.

सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा, 'हम हैरान हैं कि ऐसी संपत्तियों के लिए याचिका दायर की जाती है जो अमेरिका और ब्रिटेन में हैं. यह किस तरह की याचिका है.'

याचिकाकर्ता की मांग थी कि कोर्ट ब्रिटेन को हीरा नीलाम न करने का आदेश दे. पीठ ने इस याचिका को खारिज करते हुए केंद्र सरकार द्वारा दिए गए हलफनामे का संदर्भ दिया और कहा, 'भारत सरकार इस मसले पर ब्रिटेन के साथ हल निकालने का प्रयास कर रही है.' यह याचिका आॅल इंडिया ह्यूमन राइट्स एंड सोशल जस्टिस फ्रंट एंड हैरिटेज बंगाल नामक संस्था ने दायर की थी.

बता दें कि ब्रिटेन ने साल 2013 में कोहिनूर हीरा वापस देने की मांग को खारिज कर दिया था. साल 1850 में डलहौजी के मार्कीज ने पंजाब के महाराजा रणजीत सिंह को कोहिनूर हीरा क्‍वीन विक्‍टोरिया को तोहफे में देने के लिए मजबूर किया था. कोहिनूर की कीमत 200 मिलियन डॉलर बताई जाती है.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर