खेल नहीं 'नेल' भी देखो!


Updated: March 5, 2015, 7:23 PM IST
खेल नहीं 'नेल' भी देखो!
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।

Updated: March 5, 2015, 7:23 PM IST
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
लंदन ओलंपिक सिर्फ खेल और खिलाड़ियों का ही कुंभ नहीं है। वहां एथलीट और दर्शक फैशन ट्रेंड्स को भी बारीकी से फॉलो करते हैं। कपड़ों को लेकर ज्यादा प्रयोग की गुंजाइश भले न रहती हो लेकर बालों, नाखूनों को सजाकर ये कमी पूरी की जाती है। डालिए कैमरे में कैद हुए नेल पॉलिश के ऐसे ही ट्रेंड्स पर नजर।
First published: August 8, 2012
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर