कैसा रहेगा साल 2015 आपके लिए


Updated: March 6, 2015, 4:34 AM IST
कैसा रहेगा साल 2015 आपके लिए
2014 विदा लेने को है और नए साल के आगमन में बस कुछ ही दिन शेष हैं। ऐसे में सबके मन में यही सवाल है कि आने वाला साल उसके लिए कैसा होगा। क्या नए साल में दूर होगी पैसे की किल्लत या खत्म होगी जॉब की तलाश? कैसी रहेगी आने वाले साल में सेहत या लाइफ पार्टनर तलाशने के लिए कब तक जारी रहेगी मेहनत? क्या दूर हो पाएगी अपनों के साथ जारी अनबन या सुलझ पाएंगी ऑफिस में पैदा हुईं उलझन? ऐसे सभी सवालों के जवाब के लिए देखिए ज्योतिषी पंडित अरुणेश कुमार शर्मा के मुताबिक आपकी राशि के लिए साल 2015 में कैसे रहेंगे हालात।

Updated: March 6, 2015, 4:34 AM IST
<b><h5 class= वृश्चिक: सफल संकल्प होते हैं, मनुष्य माध्यम भर होता है। श्रेष्ठ कार्यों के लिए बाधाओं की परवाह किए बिना आगे बढ़ते रहें। आस्था और आत्मविश्वास से असंभव भी संभव होगा। स्वार्थ और संकीर्णता से बचकर रहें। व्यक्तित्व प्रभावी रहेगा। बौद्धिकता को बल मिलेगा। पूर्वार्ध में भाग्य के सहयोग से कार्य सधेंगे। शुभ सूचनाओं की प्राप्ति होगी। उत्तरार्ध में सफलता का प्रतिशत बढ़त पर रहेगा। विरोधी भी साथ खड़े नजर आएंगे। वर्षफल श्रेष्ठ फलकारक। वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को सामने रखकर सभी कार्य करें।
<b><h5 class= सिंह: कामकाजी व्यवस्थापन पर जोर दें। अनुशासन और उदारता के साथ आगे बढ़ें। लंबित मामलों को तेजी से पूरा करें। कारोबार में उन्हीं प्रस्तावों में ध्यान दें जो सहजता से पूर्ण कर सकें। जोखिम उठाने से बचें। जल्दबाजी से बचें और अतार्किक प्रस्तावों से दूर रहें। पूर्वार्ध में अधिक सतर्कता की जरूरत है। उत्तरार्ध में समझ विवेक और सामंजस्यता का लाभ मिलेगा। विवादों से यथासंभव दूर रहें। भौतिकता से अधिक आध्यात्मिकता पर जोर दें। वर्षफल सामान्य से शुभ। बड़ों की सलाह सुनें। लोकतांत्रिक नजरिया रखें।
<b><h5 class= मिथुन: अपनों को करीबी बढ़ेगी। घर परिवार में सुख सौख्य बढ़ेगा। जीवन स्तर में सुधार होगा। विवाह योग्य जनों को अच्छे साथी मिलेंगे। दाम्पत्य में शुभता का संचार रहेगा। कामकाज बेहतर बना रहेगा। विपक्ष प्रत्यक्ष विरोध से बचेगा। प्रारंभिक माह सकारात्मक अवरोधों के साथ शुभकर बने रहेंगे। सभी क्षेत्रों में अच्छा करेंगे। पूर्वार्ध में अधिकाधिक कार्य पूर्ण कर लेने की सोच रखें। उत्तरार्ध में सामाजिकता और संपर्क को मजबूती मिलेगी। भाग्यपक्ष को बल मिलेगा। वर्षफल उत्तम। अंधिविश्वास और रूढ़िवादिता से बचें।
<b><h5 class= कर्क: व्यक्तिगत प्रयासों को बल देने वाला वर्ष है। सृजन स्मरण और बौद्धिकता का बढ़ावा मिलेगा। प्रतिस्पर्धा में अच्छा करेंगे। संतान हितकर रहेगी। प्रेम में स्थायित्व आएगा। मित्रों में विश्वास बना रहेगा। प्रारंभिक महीनों के मेहनत और संघर्ष का लाभ बाद के माहों में मिलेगा। जिम्मेदारियों को आवश्यक समझकर पूरा करें, भार न मानें। दाम्पत्य में शुभता का संचार बना रहेगा। उत्तरार्ध में परिजनों से करीबी बढ़ेगी। जीवन स्तर में सुधार आएगा। विवाह योग्य जन अच्छे प्रस्ताव प्राप्त करेंगे। वर्षफल शुभकर।
<b><h5 class= कन्या: भूल सिद्ध होने तक हर एक को सही ही मानें। पूर्वाग्रह से बचें। बड़ी सोच का बड़ा लाभ मिलेगा। निजी जीवन में आपसी तालमेल की जरूरत रहेगी। साहस पराक्रम बढ़ा हुआ रहेगा। संपर्क और सूचना तंत्र तेजी से मजबूत होगा। पूर्वार्ध में कार्यक्षेत्र में उल्लेखनीय सफलता संभव है। शिक्षा, प्रेम, संतान और लाभ क्षेत्र बेहतर रहेगा। उत्तरार्ध में आर्थिक मामलों में धैर्य की जरूरत होगी। रिश्तों में अड़ियल रवैया रोड़ा बन सकता है। वर्षफल शुभकारक। सकारात्मकता का साथ न छोड़ें। व्यर्थ की उधेड़बुन से दूर रहें।
<b><h5 class= तुला: धर्म, संस्कार, नियम और अनुशासन का परचम बुलंद रखेंगे। घर परिवार से नजदीकी बढ़ेगी। परिजन सहयोगी रहेंगे। मान सम्मान बढ़त पर रहेगा। कार्यक्षेत्र में श्रेष्ठ प्रस्ताव प्राप्त होंगे। सत्ता से संबंध संवरेंगे। महत्वपूर्ण मामलों को गति देने का समय है। पूर्वार्ध में प्रयासों में तेजी आएगी। वरिष्ठ सहयोगी रहेंगे। पैतृक मामले पक्ष में रहेंगे। उत्तरार्ध में आर्थिक उन्नति को बल मिलेगा। निजी जीवन में सुख सौख्य बढ़ेगा। प्रेम संबंध शुभकर रहेंगे। वर्षफल उत्तम। आलस्य और अभिमान से बचें। शब्द चयन में सतर्कता रखें।
<b><h5 class= वृष: स्थायित्व देने वाला वर्ष है। श्रेष्ठ योजनाओं पर अमल बढ़ाएं। साझेदारी और सहकारिता से सफलता को बल मिलेगा। अच्छे प्रस्तावों से हर्षित होंगे। निजी जीवन में सुख सौख्य बढ़ेगा। शुभ सूचनाओं और संपर्कों को बल मिलेगा। प्रारंभिक माह अधिक हितकर रहने वाले हैं। पद प्रतिष्ठा और पुरस्कार की प्राप्ति संभव है। महत्वपूर्ण कार्यों को पूर्वार्ध में ही पूर्ण कर लेने का प्रयास करें। उत्तरार्ध में स्वाभिमान और अभिमान के अंतर को स्पष्ट रखें। वर्ष फल शुभकारी। व्यर्थ के विवादों और ठगों से सतर्क रहें।
<b><h5 class= धनु: मनुष्य की सही पहचान विपरीत परिस्थितियों में ही होती है। कोई ऐसा कार्य न करें जिस पर कोई प्रश्नचिह्न लगाने की चेष्टा कर सकें। गरिमा और गोपनीयता को प्राथमिकता दें। रिश्तों को श्रेष्ठता से निभाने की सोच रखें। प्रारंभिक महीनों में निजी प्रयासों में बेहतर बने रहेंगे। वर्ष के पूर्वार्ध में अनुशासन और धैर्य की अधिक जरूरत होगी। सेहत के कारकों में कोई समझौता न करें। उत्तरार्ध में सकारात्मकता बढ़त पर रहेगी। वर्षफल सामान्य से शुभकारक। अपनी कमजोरियों को किसी से साझा न करें। भावनाओं पर नियंत्रण रखें।
<b><h5 class= मकर: आर्थिक उन्नति के अच्छे संकेत हैं। समाज में साधारण समझे जाने वाले कार्यों से बड़ा लाभ अर्जित कर सबको प्रभावित कर सकते हैं। प्रयोगों को बल मिलेगा। साहसिकता जोखिम लेने की भावना को बल देगी। व्यवसायिक गतिविधियों में रुचि बढ़ेगी। साझेदारी सफल रहेंगी। महत्वपूर्ण योजनाओं को पूर्वार्ध में ही मूर्तरूप देने का प्रयास करें। उत्तरार्ध में पारिवारिक मामलों में रुचि लेंगे। व्यक्तिगत जिम्मेदारियों के समक्ष कारोबारी गतिविधियों पर ध्यान कम दे सकते हैं। वर्षफल शुभकारक। छोटी सफलताओं से शीघ्र प्रभावित न हों।
<b><h5 class= कुंभ: कार्यक्षेत्र में शुभता बनी रहेगी। अच्छे अवसरों को हर संभव भुनाने पर जोर दें। पेशेवरों को श्रेष्ठ प्रस्ताव प्राप्त होंगे। पूर्व के प्रयासों का लाभ मिलेगा। कमजोरियां शक्ति के रूप में नजर आएंगी। प्रारंभिक माहों में सतर्कता और धैर्य से काम लें। तत्पश्चात् उल्लेखनीय योजनाओं पर अमल बढ़ा सकते हैं। पूर्वार्ध में लाभ से ज्यादा निवेश पर ध्यान देंगे। उत्तरार्ध में सफलता का प्रतिशत अप्रत्याशित रह सकता है। परिवार में सुख सौख्य बढ़ेगा। साझेदारी पक्ष में रहेगी। मित्र भरोसमंद रहेंगे। वर्ष फल उत्तरोत्तर शुभ। आत्मविश्वास से आगे बढ़ें।
<b><h5 class= मीन: भाग्य के मामले संवार पर रहेंगे। शिक्षा संतान प्रेम और प्रतियोगिता में अच्छा करेंगे। आस्था और आत्मविश्वास को बल मिलेगा। सक्रियता और समझ से उल्लेखनीय कार्यों को गति दे पाएंगे। साहस पराक्रम बढ़त पर रहेगा। जोखिम लेने की क्षमता बढ़ेगी। प्रारंभिक महीनों में करियर कारोबार में उल्लेखनीय सफलता के संकेत हैं। अवसरों को भुनाने पर जोर दें। उत्तरार्ध में नौकरीपेशा ज्यादा बेहतर रहेंगे। विरोधी शांत होंगे। अनुशासन और निरंतरता पर जोर रहेगा। वर्ष फल श्रेष्ठ। भटकाव और अतार्किक बातों से बचें।
<b><h5 class= मेष: अनुशासन और अच्छाई के साथ आगे बढ़ते रहें। प्रारंभिक महीनों में करियर-कारोबार में अधिक बेहतर बने रहेंगे। जिम्मेदारी बढ़ाई जा सकती है। वरिष्ठों का सहयोग मिलेगा। कामकाज के सिलसिले में घर से दूर जाना पड़ सकता है। पारिवारिक मामलों में ज्यादा हस्तक्षेप से बचें। संकीर्णता, स्वार्थ और जल्दबाजी से हर हाल बचाव रखें। गरिमा गोपनीयता बनाए रखें। आवश्यक कार्यों को वर्ष के पूर्वार्ध में ही पूरे कर लें। उत्तरार्ध में परिस्थितियां धैर्य और धर्म पर निर्भर रह सकती हैं। वर्षफल मध्यम फलकारक।
2014 विदा लेने को है और नए साल के आगमन में बस कुछ ही दिन शेष हैं। ऐसे में सबके मन में यही सवाल है कि आने वाला साल उसके लिए कैसा होगा। क्या नए साल में दूर होगी पैसे की किल्लत या खत्म होगी जॉब की तलाश? कैसी रहेगी आने वाले साल में सेहत या लाइफ पार्टनर तलाशने के लिए कब तक जारी रहेगी मेहनत? क्या दूर हो पाएगी अपनों के साथ जारी अनबन या सुलझ पाएंगी ऑफिस में पैदा हुईं उलझन? ऐसे सभी सवालों के जवाब के लिए देखिए <b><h5 class= 2014 विदा लेने को है और नए साल के आगमन में बस कुछ ही दिन शेष हैं। ऐसे में सबके मन में यही सवाल है कि आने वाला साल उसके लिए कैसा होगा। क्या नए साल में दूर होगी पैसे की किल्लत या खत्म होगी जॉब की तलाश? कैसी रहेगी आने वाले साल में सेहत या लाइफ पार्टनर तलाशने के लिए कब तक जारी रहेगी मेहनत? क्या दूर हो पाएगी अपनों के साथ जारी अनबन या सुलझ पाएंगी ऑफिस में पैदा हुईं उलझन? ऐसे सभी सवालों के जवाब के लिए देखिए ज्योतिषी पंडित अरुणेश कुमार शर्मा के मुताबिक आपकी राशि के लिए साल 2015 में कैसे रहेंगे हालात।
First published: December 25, 2014
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर