पैसा चाहिए तो ब्लैक मनी वापस लाए सरकारः ममता


Updated: September 18, 2012, 3:16 PM IST
पैसा चाहिए तो ब्लैक मनी वापस लाए सरकारः ममता
ममता ने कहा कि यूपीए सरकार की दूसरी पाली में सहयोगी दलों की लगातार उपेक्षा की गई। हम यूपीए के दूसरे सबसे बड़े घटक हैं लेकिन हमें कभी सम्मान नहीं दिया गया।

Updated: September 18, 2012, 3:16 PM IST
नई दिल्ली। ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से समर्थन वापसी का ऐलान कर दिया है। आज हुई पार्टी की बैठक के बाद ममता ने ये ऐलान किया , साथ ही केंद्र सरकार पर गंभीर आरोप लगाए।

ममता ने कहा कि यूपीए सरकार की दूसरी पाली में सहयोगी दलों की लगातार उपेक्षा की गई। हम यूपीए के दूसरे सबसे बड़े घटक हैं लेकिन हमें कभी सम्मान नहीं दिया गया। समन्वय समिति को दरकिनार किया गया। कांग्रेस नेताओं ने हमारा अपमान और चरित्र हनन किया।

ममता ने कहा कि डीजल में मूल्य वृद्धि और रसोई गैस को कम करने जैसे जनविरोधी फैसले के बजाय सरकार को विदेशों में जमा काला धन वापस लाना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि कोयला घोटाले से ध्यान हटाने के लिए सरकार ने खुदरा बाजार खोलने का फैसला किया।

ममता ने कहा कि कांग्रेस की ब्लैकमेल की राजनीति बर्दाश्त नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने कभी भी बड़े फैसले करने से पहले हमसे राय-मशविरा नहीं किया। हमसे किसी मुद्दे पर राय नहीं ली जाती और एकतरफा फैसले लिए जाते हैं।

First published: September 18, 2012
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर