बयान पर मचे बवाल के बाद पलटीं सीएम शीला दीक्षित

वार्ता

Updated: February 25, 2013, 8:25 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

नई दिल्ली। दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित कल बिजली बिल पर दिए अपने बयान से पलट गई हैं। दरअसल कल मुख्यमंत्री ने बिजली की दरों में बढ़ोतरी को सही ठहराते हुए कहा था कि लोग बिजली का इस्तेमाल कम करें तो कम बिल आएगा। लेकिन जब उनके बयान पर बवाल मचने लगा तो उन्होंने अपने बयान से पलटकर सारा दोष मीडिया के सिर डाल दिया। शीला दीक्षित ने कहा कि मीडिया ने उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया।

मुख्यमंत्री ने रविवार को छतरपुर में एक रैली के दौरान कहा था कि अगर लोग चौबीस घंटे बिजली की आपूर्ति चाहते है तो उन्हें भुगतान करना होगा और अगर लोगों को बिजली का भुगतान करने में मुश्किल हो रही है तो उन्हें खपत कम करने के लिए बिजली उपकरणों के उपयोग में कटौती करनी चाहिए।

बयान पर मचे बवाल के बाद पलटीं सीएम शीला दीक्षित
दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित कल बिजली बिल पर दिए अपने बयान से पलट गई हैं। दरअसल कल मुख्यमंत्री ने बिजली की दरों में बढ़ोतरी को सही ठहराते हुए कहा था कि लोग बिजली का इस्तेमाल कम करें तो कम बिल आएगा।

शीला दीक्षित ने आज संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि मीडिया ने उनके बयान को गलत ढंग से पेश किया। उन्होंने लोगों को बिजली बचाने की सलाह दी थी। उनके इस बयान के बाद बीजेपी के दिल्ली इकाई के अध्यक्ष विजय गोयल और आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री को निशाने पर लिया। विजय गोयल ने मुख्यमंत्री पर बिजली वितरण कंपनियों के भ्रष्टाचार की अनदेखी करने का आरोप लगाया और कहा कि शीला दीक्षित को उपभोक्ताओं की नहीं बिजली कंपनियो की चिंता अधिक है ।

First published: February 25, 2013
facebook Twitter google skype whatsapp