राजनीति विकल्प देंगे रामदेव, चुनाव नहीं लड़ेंगे-पद नहीं लेंगे

वार्ता

Updated: February 27, 2013, 1:39 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

चंडीगढ़। योगगुरू बाबा रामदेव ने कहा कि वह नया राजनीति विकल्प देगें, स्वयं चुनाव नहीं लड़गें और कोई राजनीति पद भी नहीं लेंगे। रामदेव ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की वह आने वाले दो महीने के बाद नया राजनीति विकल्प देंगे। उन्होंने कहा कि राजनीतिक विकल्प में वह समान विचारधारा वाले राजनीति दलों के नेताओं के साथ विचार विर्मश कर रहे है।

बाबा रामदेव ने कहा कि इसके लिए उन्होंने तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि सभी 543 संसदीय क्षेत्रों में वह स्वयं तीन दिन रहकर वहां की हालातो के संबंध मे जानकारी लेंगे। योगगुरू ने कहा कि देश में व्यवस्था परिवर्तन के बिना राजनीतिक शक्ति से नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि सांसद मे कम से कम 100 प्रतिनिधि ऐसे चुनकर आने चाहिए जो कालाधन वापस लाने में सहयोग करे।

राजनीति विकल्प देंगे रामदेव, चुनाव नहीं लड़ेंगे-पद नहीं लेंगे
योगगुरू बाबा रामदेव ने कहा कि वह नया राजनीति विकल्प देगें, स्वयं चुनाव नहीं लड़गें और कोई राजनीति पद भी नहीं लेंगे।

एक सवाल के जवाब में बाबा रामदेव ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की सरकार ने उन्हें सोलन के ठोडो मैदान में जनसभा करने की मंजूरी दे दी है और वह यहां से वहीं जा रहे है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का नाम लिए बिना योगगुरू ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह मन से नहीं चाहते है कि पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट की लीज रद्द हो वह तो पार्टी प्रमुख के इशारों पर यह कार्य कर रहे है।

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश की सरकार ने गत दिनों साधुपाल के पास बाबा रामदेव की पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट की जमीन की लीज रद्द कर अपने कब्जे मे ले लिया था। योगगुरू ने इसके विरोध में हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट में चुनैती देते हुए एक याचिका दायर की है।

First published: February 27, 2013
facebook Twitter google skype whatsapp