आप विधायक अमानतुल्ला पर कार्रवाई को लेकर अड़े कुमार विश्वास

News18India.com
Updated: May 3, 2017, 12:00 AM IST
News18India.com
Updated: May 3, 2017, 12:00 AM IST
आम आदमी पार्टी (आप) के लिए मंगलवार का दिन सुबह से उठक-पटक वाला रहा है. सुबह से पार्टी में घमासान मची हुई है, जो रात तक चल रही है. कुमार विश्वास ने दो टूक कहा कि पार्टी में गलत होने पर वे चुप नहीं रहेंगे. कुमार के बयान पर मनीष सिसौदिया ने भी उन्हें नसीहत देते हुए बाहर बयानबाजी के लिए आड़े हाथ लिया.

देर रात दिल्ली के मुख्यमंत्री और 'आप' के संयोजक अरविंद केजरीवाल सहित मनीष सिसौदिया भी कुमार विश्वास से मिलने उनके घर पहुंचे. इसके बाद कुमार को सीएम आवास पर ले जाया गया, जहां उनसे बातचीत जारी है. इसी बीच कुमार विश्वास, पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान पर कार्रवाई करने को लेकर अड़ गए हैं. हालांकि सीएम ने विश्वास से मिलने के बाद कहा है कि वो उन्हें मना लेंगे.

इससे पहले संजय सिंह, आशुतोष और कपिल मिश्रा कुमार के घर पहुंचे. इसके अलावा महेंद्र गोयल और पवन शर्मा भी विश्वास के घर पहुंचे हैं. केजरीवाल कुमार को अपने घर ले गए. इस दौरान केजरीवाल ने कहा कि कुमार हमारे आंदोलन के अभिन्न अंग हैं. वो नाराज हैं. हम उन्हें मना लेंगे.

इससे पहले दोपहर में कुमार विश्वास के घर एक अहम बैठक हुई. बैठक में करीब छह आप विधायक शामिल हुए. बैठक के दौरान अमानतुल्ला को पार्टी से बाहर किए जाने पर चर्चा हुई. सूत्रों के मुताबिक आप के एक बड़े नेता ने दावा किया है कि तीन दिनों के भीतर दिल्ली का मुख्यमंत्री बदल जाएगा.

इससे पहले कुमार विश्वास ने एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने लिखा है कि सॉरी बॉस, पुराने पैंतरे नहीं चलेंगे. बाद में कुमार मीडिया के सामने आए और रूंधते गले से बोले कि मैं पार्टी की गलती पर चुप नहीं रहूंगा. लगातार 6 हार के बाद कार्यकर्ता हताश हुए हैं. मुझे सीएम बनने की चाहत नहीं है. कुमार ने कहा कि मेरे खिलाफ साजिश हुई है. मैं अपने वीडियो के लिए माफी नहीं मानूंगा. सत्यमेव जयते.

 



इस बीच विश्वास से मिले विधायकों का दावा है कि तीन दिन में मुख्यमंत्री बदल जाएगा. पार्टी में बढ़ती तकरार को देखते हुए आप ने शाम सात बजे होने वाली पीएसी की बैठक रद्द कर दी. विश्वास के बयान पर मनीष सिसौदिया ने कहा कि उन्हें इस बयान से दुख हुआ है. सिसौदिया ने कहा कि कुमार इसे व्यक्तिगत लड़ाई बना रहे हैं. पार्टी तीन लोगों ने नहीं, कार्यकर्ताओं ने बनाई है.

सूत्रों की मानें तो कुमार विश्वास ने पार्टी के कुछ विधायकों संग अपने घर सेक्टर-3, वसुंधरा, गाजियाबाद में बैठक की. बैठक में विधायक भावना गौड, राजेश, मनोज कौंडली, राजू धींगरा आदि विधायक मौजूद रहे.

बैठक में इस बात को लेकर ज्यादा जोर दिया जा रहा है कि अमानतुल्ला के सिर्फ पीएसी से इस्तीफा देने से काम नहीं चलेगा. उन्हें पार्टी से बहार किया जाए. बैठक में ये भी बात उठी है कि अगर अमानतुल्ला ने ये ही आरोप केजरीवाल पर लगाए होते तो विधायक पर क्या कार्रवाई होती.



सूत्रों का कहना है कि बैठक के बाद शाम तक कुमार विश्वास समर्थकों का खेमा कोई बड़ा फैसला ले सकता है.

इस घटना के बाद मामले ने पकड़ा तूल

आप विधायक अमानतुल्ला ने कुमार विश्वास पर आरोप लगाए थे कि वे भाजपा के इशारे पर काम कर रहे हैं. इसके बाद कुमार विश्वास के खेमे से भी विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया गया. नाटकीय घटनाक्रम के तहत सोमवार देर रात विधायक ने पीएसी से इस्तीफा दे दिया.  लेकिन कुमार खेमा सिर्फ पीएसी से इस्तीफा दिए जाने से ही संतुष्ट नहीं है.
First published: May 2, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर