योगी आदित्‍यनाथ के रिपोर्ट कार्ड से लगाइए अंदाजा, कैसे होंगे यूपी सीएम

News18Hindi
Updated: March 19, 2017, 4:09 PM IST
योगी आदित्‍यनाथ के रिपोर्ट कार्ड से लगाइए अंदाजा, कैसे होंगे यूपी सीएम
योगी आदित्यनाथ मात्र 26 साल की उम्र से संसद भवन में बतौर सांसद जा रहे हैं. वह 1998 से लगातार गोरखपुर से सांसद हैं. पीआरएस डाटा को अध्ययन करें तो आप पाएंगे कि योगी का बतौर सांसद रिपोर्ट कार्ड उन्हें शत प्रतिशत अंक दिलाता है.
News18Hindi
Updated: March 19, 2017, 4:09 PM IST
योगी आदित्यनाथ मात्र 26 साल की उम्र से संसद भवन में बतौर सांसद जा रहे हैं. वह 1998 से लगातार गोरखपुर से सांसद हैं. पीआरएस डाटा को अध्ययन करें तो आप पाएंगे कि योगी का बतौर सांसद रिपोर्ट कार्ड उन्हें शत प्रतिशत अंक दिलाता है.
जानिए कैसे:

वर्तमान सरकार में योगी की संसद में उपस्थिति 77 प्रतिशत रही है

ये डाटा पीआरएस द्वारा जारी है और इसमें 1 जून 2014 से 15 मार्च 2017 तक का डाटा है.

वह अब तक लोकसभा के 56 बहस में भी हिस्सा ले चुके हैं.

सवाल पूछने में भी आगे रहे हैं योगी. उन्होंने वर्तमान सरकार में रहते हुए 284 सवाल पूछे हैं.

इसके अलावा प्राइवेट मेंबर बिल के तहत भी 3 सवाल पूछ चुके हैं.

योगी ने अपने पांचवें कार्यकाल में यानी वर्तमान सरकार के अंतर्गत ही लगभग हर मंत्रालय से सवाल पूछे हैं.

हालांकि सांसद निधि को खर्च करने के लिहाज से योगी आदित्यनाथ का रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं रहा है.

पीआरएस रिपोर्ट ये बताती है कि योगी न सिर्फ अपने काम को लेकर पक्के हैं बल्कि सरकार में रहने के बावजूद लगातार जानकारियों को जुटाना और क्रियान्वयन पर सवाल उठाना उनकी कार्यशैली में है. अब अगर इसको यूपी की सरकार के मद्देनजर समझें तो निश्चित ही यहां की जनता को लगातार काम करने वाला सीएम मिल गया है. अब देखना दिलचस्प होगा कि नई भूमिका में योगी की आराधना यूपी वालों को कितनी अच्छी लगती है और उन्हें कितना फायदा पहुंचाती है.
First published: March 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर