मुस्लिमों पर बयान देकर घिरे रविशंकर प्रसाद ने सफाई में किए ये तीन ट्वीट

News18India
Updated: April 22, 2017, 11:13 PM IST
News18India
Updated: April 22, 2017, 11:13 PM IST
मुस्लिमों पर दिए बयान पर सोशल मीडिया में हंगामा होने के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने सफाई दी है. रविशंकर प्रसाद ने एक के बाद एक तीन ट्वीट कर अपना पक्ष रखा है. ​

ट्विटर पर उन्होंने कहा है कि नरेंद्र मोदी सरकार सभी के विकास में विश्वास रखती है, चाहे उसका धर्म जो भी हो. बीजेपी वोट बैंक के आधार पर विकास करने में यकीन नहीं रखती.

उन्होंने ट्विटर पर कहा, 'मोदी सरकार समावेशी समाज में विश्वास करती है और भारत की सांस्कृतिक विविधता का सम्मान करती है. हम वोट बैंक के आधार पर भारतीय नागरिकों के विकास को नहीं मापते हैं.'

बता दें कि इससे पहले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि मुसलमान बीजेपी को वोट नहीं करते फिर भी सरकार और पार्टी उनका ख्याल रखती है. रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि मुस्लिमों को किसी भी तरह परेशान नहीं किया जाता.

केंद्रीय मंत्री बोले- 'मुसलमानों का वोट नहीं मिलता, पर हम उन्‍हें सम्‍मान देते हैं'

हीरो मोटोकॉर्प के कार्यक्रम ‘माइंडमाइन समिट’ में एक सवाल का जवाब देते हुए प्रसाद ने मुस्लिमों को लेकर ये बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि पिछले कुछ दिनों से बीजेपी के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है इसके बाद भी जनता का साथ बीजेपी को मिला, उन्होंने कहा कि क्या हमारी सरकार ने अब तक किसी भी मुस्लिम को परेशान किया? क्या हमने किसी मुसलमान से उसकी नौकरी छीनी है?

प्रसाद के बयान पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि हमें संविधान ने अधिकार दिए हैं और वही हमारे अधिकारों को सुरक्षा देता है. उन्होंने कहा, सरकारें आती-जाती रहेंगी.







First published: April 22, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर