बीजेपी की हर सफलता में उत्तराखंड का बड़ा कनेक्शन

नासिर हुसैन | News18India.com

Updated: March 18, 2017, 8:39 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

योगी आदित्यनाथ के यूपी का सीएम बनते ही एक बार फिर से भाजपा का उत्तराखण्ड प्रेम सामने आ रहा है. योगी उत्तराखण्ड के पौढ़ी गढ़वाल के रहने वाले हैं. इससे पहले उत्तराखण्ड के ही रहने वाले पांच और लोग देश की सुरक्षा से जुड़े महत्वपूर्ण पदों पर बैठे हुए हैं. खास बात ये है कि सबसे ज्यादा लोग पौढ़ी गढ़वाल के हैं. उत्तराखण्ड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत भी पौढ़ी गढ़वाल के ही रहने वाले हैं.

...जब संसद में फूट-फूट कर रोये थे योगी आदित्यनाथ

बीजेपी की हर सफलता में उत्तराखंड का बड़ा कनेक्शन
योगी आदित्यनाथ के यूपी का सीएम बनते ही एक बार फिर से भाजपा का उत्तराखण्ड प्रेम सामने आ रहा है. योगी उत्तराखण्ड के पौढ़ी गढ़वाल के रहने वाले हैं. इससे पहले उत्तराखण्ड के ही रहने वाले पांच और लोग देश की सुरक्षा से जुड़े महत्वपूर्ण पदों पर बैठे हुए हैं.

देवभूमि उत्तराखण्ड का पौढ़ी गढ़वाल एक बार फिर से सुर्खियों में है. एक ही दिन में पौढ़ी गढ़वाल से दो सीएम सामने आए हैं. एक त्रिवेन्द्र सिंह रावत उत्तराखण्ड के सीएम बने हैं तो योगी आदित्यनाथ देश के सबसे बड़े सूबे यूपी के सीएम बने हैं. योगी के नाम की चर्चा होते ही हर किसी की जुबान पर भाजपा का उत्तराखण्ड मंत्र चर्चाओं में है.

फिर पूर्वी उत्तर प्रदेश ने दिया सीएम, पूर्वांचल से योगी बनेंगे नौवें मुख्यमंत्री

इससे पहले पौढ़ी गढ़वाल से ही रॉ चीफ अनिल धस्माना, आर्मी चीफ बिपिन रावत, एनएसए अजीत डोभाल भी पौढ़ी गढ़वाल से ही आते हैं. हर कोई ये जानने की कोशिश कर रहा है कि पौढ़ी गढ़वाल से भाजपा का ऐसा क्या नाता है जो देश की रक्षा से जुड़े बड़े-बड़े पदों पर और दो प्रदेशों के सीएम भी पौढ़ी गढ़वाल से आ रहे हैं.

दो अन्य लोगों की बात करें तो कोस्टगार्ड के डीजी राजेन्द्र सिंह और डीजीएमओ अनिल भट्ट भी उत्तराखण्ड से ही संबंध रखते हैं.

इन विवादित बयानों से पार्टी को कई बार मुश्किलों में डाल चुके हैं योगी आदित्यनाथ!

First published: March 18, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp