चित्तौड़गढ़ अस्पताल में प्रसूता की मौत पर हंगामा, डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप

ETV Rajasthan
Updated: May 18, 2017, 8:55 PM IST
चित्तौड़गढ़ अस्पताल में प्रसूता की मौत पर हंगामा, डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप
चित्तौड़गढ़ अस्पताल में हंगामा.
ETV Rajasthan
Updated: May 18, 2017, 8:55 PM IST
राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिला चिकित्सालय में आज एक प्रसूता की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा खड़ा कर दिया. उन्होंने आरोप लगाया कि चिकित्सकों की लापरवाही की वजह से महिला की मौत हुई.

जिले के जाट सादड़ी गांव की प्रसूता को प्रसव पीड़ा होने पर आज तड़के जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था. जांच में पता चला कि प्रसूता के जुड़वा बच्चों को जन्म देने वाली है. डॉक्टरों के मुताबिक गर्भावस्था के दौरान महिला का कहीं जांच नहीं करवाया गया था. महिला तीसरी बार मां बनने वाली थी और उसकी स्थिति सामान्य थी.

चिकित्सकों का यह कहना था कि प्रसूता को भर्ती कराने के दौरान परिजनों ने यह नहीं बताया था कि उसे सांस की बीमारी थी, फिर भी एक बच्ची को सुरक्षित जन्म कराया गया. उसी दौरान उसकी सांस तेज चलने लगी और गर्भ में एक शिशु की मौत हो गयी. इसके कुछ समय बाद इलाज के दौरान महिला ने भी दम तोड़ दिया.

महिला के पिता ओम प्रकाश का कहना है कि महिला ने पहले एक बच्ची को जन्म दिया. उसके बाद उसकी तबियत बिगड़ने लगी. उसकी मौत हो गई. उन्होंने यह भी कहा कि डॉक्टरों ने पहले उसका ऑपरेशन करने की बात कही थी जिसपर उन्होंने हामी भरी थी. इसके बाद डॉक्टरों को उसके हाल पर छोड़ दिया.

चिकित्सालय परिसर में हंगामे की सूचना पर सदर पुलिस ने मौके पर पहुंच मामले की जानकारी लेते हुए मृतका के परिजनों को समझा बुझाकर शांत कराते हुए शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर