ठंड से बढ़ी हार्ट अटैक मरीजों की संख्या, डॉक्टरों ने दी ऐसे बचने की सलाह

सौरभ द्विवेदी | ETV Rajasthan

First published: January 13, 2017, 3:02 PM IST | Updated: January 13, 2017, 3:02 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
ठंड से बढ़ी हार्ट अटैक मरीजों की संख्या, डॉक्टरों ने दी ऐसे बचने की सलाह
डेमो पिक.

राजस्थान में कड़ाके की ठंड के साथ ही दिल की मर्ज भी बढ़ गई है. हृदय रोगियों की संख्या में एकाएक इजाफा होने लगा है.

प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल में सामान्य दिनों से 20 से 30 फीसदी तक हृदय रोगियों की संख्या में इजाफा हुआ है. एक ओर जहां रोजाना 10 से 15 हार्ट अटैक के मरीज पहुंच रहे हैं तो वहीं चिकित्सक सुबह के समय विशेष ध्यान रखने की सलाह दे रहे हैं.

पिछले एक सप्ताह से पारा लगातार नीचे लुढ़क रहा है. आलम यह है कि प्रदेश के लगभग सभी हिस्सों में पारा 5 डिग्री सेल्सियस के नीचे पहुंच गया है तो कई इलाकों में पारा माइनस में है.

कड़ाके की सर्दी के चलते जनजीवन अस्तव्यस्त होने लगा है. हालांकि सर्दी को स्वास्थ्य के लिहाज से अच्छा मौसम माना जाता है, लेकिन इस मौसम में दिल के मरीजों की धड़कने तेज हो गई हैं. इन दिनों सबसे बड़ा खतरा हार्ट अटैक के रूप में सामने आ रहा है.

एसएमएस अस्पताल में रोजाना 10 से 15 केस हार्ट अटैक के मरीज पहुंच रहे हैं. कार्डियोलॉजी विभाग के प्रोफेसर डॉ. एसएम शर्मा ने बताया कि इस मौसम में रक्त नलिकाएं सिकुड़ने लगती हैं. इससे हृदय रोगियों को हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है. ठंड के दौरान ब्लड प्रेशर भी बढ़ जाता है.

चिकित्सकों के अनुसार ठंड बढ़ने के कारण शारीरिक गतिविधियां कम होने से खून में कंपोनेंट आपस में जुड़कर सीधे दिल पर हमला करते हैं. इससे खून की सप्लाई प्रभावित करती है. इसके अलावा मोटापा, डायबिटीज, तनाव, ब्लडप्रेशन भी हार्ट अटैक का कारण बन रहे हैं.

चिकित्सकों के अनुसार सबसे ज्यादा हार्ट अटैक अलसुबह दो बजे से लेकर सुबह आठ बजे तक के समय में आते हैं. ऐसे में हार्ट के मरीजों को विशेष ख्याल रखने की आवश्यकता है. कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए. साथ ही धूप के समय ही घरों से बाहर निकलना चाहिए.

हृदय रोगों के अलावा दमा और अन्य रोगों के मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है. खासतौर पर बुजुर्गों की सेहत ज्यादा प्रभावित हो रही है.

हालांकि चिकित्सकों का मानना है कि यह मौसम खानपान के लिए अच्छा है ऐसे में अच्छा खानपान और व्यायाम करने से स्वास्थ्य बेहतर रह सकता है.

facebook Twitter google skype whatsapp