मकर संक्रांति: रात 2 बजे तक खुला पतंग बाजार, 15 करोड़ की पतंग-डोर बिक्री

Pradesh18

First published: January 14, 2017, 4:03 PM IST | Updated: January 14, 2017, 4:05 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
मकर संक्रांति: रात 2 बजे तक खुला पतंग बाजार, 15 करोड़ की पतंग-डोर बिक्री
शुक्रवार रात पतंग-डोर की खरीदारी से बाजारों में उमड़ी भीड़. फोटो-रविशंकर व्यास

राजस्थान की राजधानी जयपुर में मकर संक्रांति के दिन शनिवार को पतंगबाजी अपने चरम पर है. पूरा शहर छतों पर इसके उत्सवी रंगों से सराबोर नजर आ रहा है.

बता दें कि नोटबंदी के बाद जिस बाजार में मंदी का सन्नाटा पसरा पड़ा था वहीं शुक्रवार रात दो बजे तक पतंग-डोर की खरीदारी हो रही थी. दुकानदारों को सांस लेने की फुर्सत नहीं थी और ग्राहकों से मुख्य बाजारों से रास्ते जाम नजर आए. एक अनुमान के अनुसार शुक्रवार रात 2 बजे तक करीब 15 करोड़ की पंतग-डोर की बिक्री हुई है. वहीं पतंग-डोर के अलावा जो दान-पूण्य और मिठाई की खरीद-फरोख्त हुई है उसका कारोबार भी 25 करोड़ के पार पहुंच गया है.

उल्लेखनीय है कि शनिवार को सूर्य ने मकर में प्रवेश किया है ओार यह इस संक्रांति का दान पूण्य के लिए सबसे बड़ी संक्रांति भी माना गया है. इस दिन लोग एक-दूसरे को मकर संक्रांति बधाई और शुभकामना संदेश दे रहे हैं वहीं आसमां रंग-बिरंगी पतंगों से अटा पड़ा है.

शाम को लाइटिंग और आतिशबाजी

दिनभर पतंग-डोर के दौर के बाद शाम होते-होते जयपुर में पिछले कुछ सालों से आतिशबाजी भी जमकर होती है. साथ ही अब सूरज के ढलने के साथ ही पतंग कम लालटेन(लाइटिंग पतंग) ज्यादा नजर आने लगते हैं.

विदेशी महमान भी उठा रहे लुत्फ

पर्यटन विभाग की ओर से जयपुर स्थित मानसागर झील की पाल पर शनिवार को पतंगबाजी का आयोजन किया गया. यहां देसी-विदेशी पर्यटक पतंबाजी का जमकर लुत्फ उठा रहे हैं.

facebook Twitter google skype whatsapp