RTI के तहत सूचना नहीं देना पड़ा महंगा, एडीएम पर ठुका 60 हजार का जुर्माना

ETV Rajasthan
Updated: July 17, 2017, 6:02 PM IST
RTI के तहत सूचना नहीं देना पड़ा महंगा, एडीएम पर ठुका 60 हजार का जुर्माना
फोटो-(ईटीवी)
ETV Rajasthan
Updated: July 17, 2017, 6:02 PM IST
आरटीआई के तहत सूचना उपलब्ध नहीं करवाना प्रतापगढ़ के अतिरिक्त जिला कलेक्टर को भारी पड़ा है. राज्य सूचना आयोग ने तीन अलग-अलग मामलों में प्रतापगढ़ एडीएम पर 60 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है.

एडीएम पर दो मामलों में 25-25 हजार और एक मामले में 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है. सूचना आयुक्त आशुतोष शर्मा की कोर्ट ने ये आदेश जारी किए हैं.

परिवादी प्रहलाद कुमावत द्वारा एडीएम से आरटीआई एक्ट के तहत सूचनाएं मांगी गई थी. इनमें एक सूचना जिला कलेक्टर और अतिरिक्त जिला कलेक्टर द्वारा विभागीय कार्यों के लिए किए गए दौरों से सम्बन्धित थीं, जबकि एक सूचना सम्पर्क पोर्टल पर की गई एक शिकायत के सम्बन्ध में की गई कार्रवाई से सम्बन्धित थी.

इसी तरह एक सूचना अपीलार्थी को सूचना मांगने पर मिल रही धमकियों के मामले में की गई कार्रवाई से सम्बन्धित थीं. तीनों ही मामलों में लोक सूचना अधिकारी का जिम्मा संभाल रहे एडीएम द्वारा परिवादी को सूचना उपलब्ध नहीं करवाई गई.

एडीएम के इस कृत्य को गंभीर लापरवाही, अकर्मण्यता और उदासीनता मानते हुए आयोग ने उन पर जुर्माना लगाया है. एडीएम द्वारा भेजे गए अपीलोत्तर जवाब को भी आयोग द्वारा अफसोसजनक और गैर जिम्मेदाराना बताया गया है.

एडीएम ने अपने जवाब में कहा है कि आरटीआई शाखा के बाबू द्वारा उन्हें देर से इन प्रकरणों के बारे में बताया गया, जिसके चलते समय पर सूचना नहीं दी जा सकी.

मामले में तल्ख टिप्पणी करते हुए सूचना आयुक्त आशुतोष शर्मा ने कहा है कि एडीएम वरिष्ठ अधिकारी हैं और जिला प्रशासन में उनका महत्वपूर्ण पद है लिहाजा कार्यालय की व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखना उनकी जिम्मेदारी है.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर