चेन्नई सुपरकिंग्स पर लगा बैन ख़त्म, फिर कप्तानी कर सकते हैं धोनी

News18Hindi
Updated: July 14, 2017, 2:59 PM IST
चेन्नई सुपरकिंग्स पर लगा बैन ख़त्म, फिर कप्तानी कर सकते हैं धोनी
Chennai Super kings और Rajasthan Royals से बैन हुआ ख़त्म
News18Hindi
Updated: July 14, 2017, 2:59 PM IST
आईपीएल का पहला सीज़न जीतने वाली राजस्थान रॉयल्स और दो बार की चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स पर लगा हुआ दो सालों का बैन ख़त्म हो गया है. इसके साथ ही यह भी साफ हो गया है कि 2018 में होने वाले आईपीएल के 11वें सीज़न में इन दोनों टीमों की वापसी होगी.

महेंद्न सिंह धोनी के नेतृत्व में दो बार खिताब अपने नाम करने वाली चेन्नई सुपरकिंग्स ने आईपीएल के 11वें सीज़न की अभी से तैयारियां भी शुरू कर दी हैं.

चेन्नई सुपरकिंग्स के निदेशकों में से एक के. जॉर्ज ने कहा कि बैन ख़त्म हो गया है और हमने सोशल मीडिया पर कुछ काम भी शुरू कर दिया है. उन्होंने यह भी कहा, बैन के बावजूद सीएसके के ब्रैंड पर कोई असर नहीं पड़ा. अगर बीसीसीआई खिलाड़ियों को रिटेन करने की अनुमति देती है तो वो पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को किसी भी हाल में अपनी टीम में बरकरार रखना चाहेंगे.

जॉन ने एक ख़ास इंटरव्यू में कहा, हमें अगर किसी खिलाड़ी को रिटेन करने का मौका मिलता है, तो हम महेंद्र सिंह धोनी को करेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि उनका पुणे के साथ इस साल अंत में उनका अनुबंध ख़त्म होने के बारे में हमने फिलहाल धोनी से किसी प्रकार की कोई बातचीत नहीं की है. आगे उन्होंने कहा कि हम अपनी आगे की रणनीति बनाएंगे तब उनसे बात करेंगे.

बता दें कि 2013 आईपीएल फिक्सिंग मामले में फंसने के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स को 2015 में दो सालों के लिए बैन कर दिया गया था. इसके बाद इन दोनों टीमों की जगह गुजरात लायंस और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट दो अन्य टीमों को शामिल किया गया. 2016 और 2017 के सीज़न में इन दोनों नई फ्रेंचाइज़ियों ने इस टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था.

आईपीएल में दो पुरानी टीमों के वापस आने से दर्शकों में भी उत्साह और जोश अधिक देखने को मिलेगा और इसके अलावा कुछ बदलाव भी देखने को मिलेंगे. सीएसके और रॉयल्स के आने से लायंस और पुणे सुपरजाएंट के आगे के सफर पर विराम लग जाएगा. दोनों टीमों के खिलाड़ी वापस पुरानी या अन्य टीमों में लौटेंगे. धोनी के फैन्स के लिए यह खबर बेहद खुश करने वाली होगी.

ये भी पढ़ें:

COA ने शास्त्री और स्पोर्टिंग स्टाफ के कॉन्ट्रेक्ट पर लगाई रोक, ज़हीर पर भी होगा फैसला
त्रिमूर्ति की साख को लगा कोच चयन प्रकरण से सबसे से बड़ा धक्का
First published: July 14, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर