IPL-10: वो 5 वजह जिसके चलते कोलकाता पर भारी पड़ सकती है मुंबई!

विमल कुमार@Vimalwa | News18Hindi
Updated: May 19, 2017, 3:13 PM IST
IPL-10: वो 5 वजह जिसके चलते कोलकाता पर भारी पड़ सकती है मुंबई!
Image Source: BCCI/News18
विमल कुमार@Vimalwa | News18Hindi
Updated: May 19, 2017, 3:13 PM IST
रोहित शर्मा और गौतम गंभीर, इन दोनों में सिर्फ एक ही खिलाड़ी को आईपीएल ट्रॉफी तीसरी बार जीतने का मौका मिल सकता है. दोनों कप्तानों ने अब तक 2-2 बार ये ख़िताब जीता है लेकिन आज के प्लेऑफ में रोहित शर्मा की टीम के लिए पाइनल पहुंचने का रास्ता ज़्यादा आसान दिखाई दे रहा है.

1. इतिहास मुंबई इंडियंस के साथ (15-5)- मुंबई इंडियंस और कोलाकात नाइट राइडर्स अब तक आईपीएल के इतिहास में 20 बार आमन-सामने हुए हैं और इनमें से 15 बार जीत मुबई को मिली है. यानि 75 फीसदी मैचों में जीत का शानदार रिकॉर्ड आज के क्वालिफायर 2 में गौतम गंभीर की सेना पर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाने में कारगर साबित होगा.

2. मौजूदा सीज़न में भी मुंबई का दबदबा (2-0)- ऐतिहासिक रिकॉर्ड के साथ-साथ मौजूदा सीज़न में खेले गए 2 मैचों में वही रोहित शर्मा की टीम ने गंभीर की टीम को मात दी है. ज़ाहिर सी बात है प्लेऑफ के इस अहम मुकाबले में भी मुंबई को जीत की हैट्रिक का इंतज़ार होगा.

Image Source: News18


3. दो साल से नहीं हारी है कोलाकाता से मुंबई- 14 मई 2015 से लेकर 13 मई 2017 तक खेले गए पिछले पाचं मुकाबलों में कोलकाता की टीम को मुंबई के ख़िलाफ़ हर बार हार का ही सामना करना पड़ा है. जिस टीम को कोलकाता 2 साल से हराने में जूझ रही है, क्या प्ले-ऑफ का दबाव उन्हें और दबाव में तो नहीं लायेगा?

4. बैंगलुरु की पिच से मिला इंडियंस को फायदा- अब तक के मैचों में ये साफ दिख है कि चिन्नास्वामी स्टेडियम में स्पिन गेंदबाज़ों को ख़ासी मदद मिल रही है. अगर ये ट्रैंड आज बरकरार रहा तो यहां भी मुंबई की ही बल्ले बल्ले होगी. इस आईपीएल में दोनों टीमों ने स्पिनर ने 27-27 विकेट लिए हैं लेकिन जहां मुंबई के स्पिनरों का इकॉनोमी रेट 7 से कम (6.86) है वहीं कोलकाता के स्पिनरों का इकॉनोमीं रेट करीब 8 (7.97) के बराबर है. यानि स्पिन डिपार्टमेंट में भी मुंबई का ही पलड़ा भारी दिखता है.

5. मुंबई अकं-तालिका में भी रही थी टॉप- इस सीज़न मुंबई ने बाकि सीज़न के मुकाबले धुंआधार शुरुआत की. पहले 11 मैचों में 9 जीत के चलते वो अंक-तालिका में टॉप पर रहे और इसी चलते पहले प्ले-ऑफ में हारने के बावजूद उन्हें फाइनल में पहुंचने के लिए एक और मैच मिल रहा है. वहीं कोलकाता के पास भी अंक-तालिका में एक समय टॉप 2 में फिनिश करने का मौका था लेकिन वो आखिरी लम्हों में चूके.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर