मुंबई इंडियंस ने इस रेलवे कर्मचारी पर आखिर क्यों लगाया करोड़ों का दांव? अब पता चला

News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 9:59 AM IST
मुंबई इंडियंस ने इस रेलवे कर्मचारी पर आखिर क्यों लगाया करोड़ों का दांव? अब पता चला
(BCCI)
News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 9:59 AM IST
आईपीएल-10 के लिए हुए ऑक्शन में जब मुंबई इंडियंस ने कर्ण शर्मा को 3.75 करोड़ रुपये में खरीदा तो क्रिकेट वर्ल्ड चकित था. रेलवे में फोर्थ ग्रेड के कर्मचारी इस स्टार पर इतना बड़ा दांव क्यों? वो भी स्पिनर पर. लेकिन, इस स्टार ने दूसरे क्वालिफायर मुकाबले में केकेआर के दिग्गज बल्लेबाजों को घुटने टेकने के लिए मजबूर करते हुए मुंबई के फैसले को सही साबित कर दिया है. वे इस सत्र में अब तक 8 मैचों में 13 विकेट ले चुके हैं.

सिर्फ 16 रन देकर मैच का रुख पलटने वाले कर्ण के जिंदगी भी किसी टिपिकल बॉलीवुड फिल्म से कम नहीं है. मेरठ के रहने वाले कर्ण 2005 में रेलवे से जुड़े थे. फोर्थ ग्रेड कर्मचारियों का काम पटरी की मरम्मत करना और लोहे की रॉड उठाने जैसे मशक्कत भरे काम होते हैं. हालांकि, एक क्रिकेटर होने की वजह से कर्ण को छूट मिली.

उस वक्त कर्ण का वेतन 17 हजार हुआ करती थी, लेकिन आईपीएल ने उनकी जिंदगी बदल दी. वे आईपीएल में अब तक हैदराबाद सनराइजर्स और रॉयल चैंलेंजर्स बेंगलोर की ओर से खेल चुके हैं. सबसे बड़ी बात ये है कि आरसीबी की ओर से खेलने के लिए ही उन्हें 20 लाख मिले थे, बाकि की टीमों ने उन्हें करोड़ों में खरीदा था.

चुना गया मैन ऑफ द मैच

आईपीएल-10 के दूसरे क्वालिफायर में मुंबई को कोलकाता नाइटराइडर्स को 6 विकेट से हरा दिया. मुंबई की जीत के हीरो रहे ऑलराउंडर कर्ण शर्मा. उन्होंने 16 रन देकर चार विकेट लिए. इस परफॉर्मेंस के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया.
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर