IPL-10: विजय माल्या की गिरफ्तारी का आरसीबी पर क्या पड़ेगा असर?

News18Hindi
Updated: April 18, 2017, 4:42 PM IST
IPL-10: विजय माल्या की गिरफ्तारी का आरसीबी पर क्या पड़ेगा असर?
(BCCI)
News18Hindi
Updated: April 18, 2017, 4:42 PM IST
कभी इंडिया के टॉप मोस्ट बिजनेसमैन में से एक रहे विजय माल्या को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया है. माल्या पर 17 बैंकों का 9000 करोड़ रुपए कर्ज है. आलीशान जिंदगी के लिए मशहूर विजय माल्या कई बैंकों के डिफॉल्टर घोषित हो चुके हैं. उनकी गिरफ्तारी का इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेल रही आरसीबी की टीम पर क्या असर पड़ेगा? ये सवाल हर क्रिकेट फैंस के मन में उठ रहा होगा.

2016 में ही खो चुके हैं मालिकाना हक
... तो बता दें कि कभी आईपीएल की ग्लैमरस पार्टियों की शान रहे विजय माल्या का के पास रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) टीम का मालिकाना हक नहीं रखते हैं. वे 2016 में ही मालिकाना हक खो चुके हैं. हालांकि उनके बेटे सिद्धार्थ माल्या जरूर बोर्ड मेंबर्स में शामिल हैं. इसका खुलासा पिछले साल बीसीसीआई को मिले एक पत्र से हुआ. इस पत्र में विजय माल्या के रॉयल चैलेंजर्स स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक के पद से इस्तीफे की सूचना थी.

ऐसे हुआ था बदलाव

आईपीएल संचालन परिषद में बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी को पिछले साल मार्च में फ्रेंचाइजी के अधिकारी रसेल एडम्स का ईमेल मिला. उन्होंने बोर्ड को टीम के मालिकाना हक की मौजूदा स्थिति के बारे में भी बताया. इस घटनाक्रम से कुछ दिन पहले ही विजय माल्या देश छोड़कर ब्रिटेन चले गए थे. बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी ने बताया था कि हमें रसेल एडम्स का ईमेल मिला जो तब से ही आरसीबी टीम के प्रभारी बन गए.

बेटे सिद्धार्थ बोर्ड में हैं शामिल
ईमेल में कहा गया था कि विजय माल्या ने आरसीएसपीएल के निदेशक के पद से इस्तीफा दे दिया. उस समय बीसीसीआई अधिकारी ने कहा था कि मालिकाना प्रारूप पर स्पष्टीकरण जरूरी है. उन्होंने कहा, 'फ्रेंचाइजी के मालिकाना हक में बदलाव की दशा में बीसीसीआई के नियम काफी कड़े हैं. मालिकों को बीसीसीआई को सूचित करना होगा कि किसी हिस्से या पूरे मालिकाना हक में बदलाव किया गया है.'चिट्ठी के मुताबिक, विजय माल्या के बेटे सिद्धार्थ माल्या बोर्ड में शामिल होंगे लेकिन सीमित तौर पर, और अगर बोर्ड मेंबर चाहेंगे, तो उनसे राय मशविरा किया जाएगा.

ओनरशिप में नहीं होंगे बदलाव
साथ ही साथ इस बात की भी पुष्टी हुई थी कि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के मालिक बदले नहीं जाएंगे. एडम्स, जो पहले कमर्शियल ऑपरेशंस और आरसीबी की क्रिकेट ऐकेडमी के वाइस प्रेसिडेंट की भूमिका भी निभा रहे थे, उन्होंने बताया थी कि टीम मालिक नहीं बदले जाएंगे. बीसीसीआई ने इस बारे में स्थिति साफ़ करने को कहा था. विजय माल्या 2008 से 2016 तक रॉयल चैलेंजर्स के मालिक थे. आईपीएल-9 में विराट की ये टीम फाइनल में हैदराबाद सनराइज़र्स से हार गई थी. आपको बता दें कि आरसीबी ने अभी तक एक बार भी आईपीएल ख़िताब पर क़ब्ज़ा नहीं जमाया है.

ये भी पढ़ें: IPL-10: डेविड वॉर्नर ने अपने नाम किया एक नया रिकॉर्ड, गंभीर को भी छोड़ा पीछे
ये भी पढ़ें: तस्वीरें: मैच देखने पहुंची आशीष नेहरा की वाइफ, ये सेलेब भी आए नजर
ये भी पढ़ें: IPL-10: धोनी ने ऐसे मनाया टीम के साथ जीत का जश्न
First published: April 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर