रणजी ट्रॉफीः शतक से चूके पार्थिव पटेल, गुजरात को 63 रन की बढ़त

Pradesh18

First published: January 11, 2017, 11:45 AM IST | Updated: January 11, 2017, 5:52 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
रणजी ट्रॉफीः शतक से चूके पार्थिव पटेल, गुजरात को 63 रन की बढ़त
पार्थिव पटेल और मनप्रीत जुनेजा की अर्धशतकीय पारी की बदौलत गुजरात ने रणजी ट्रॉफी फाइनल में मुंबई के खिलाफ छह विकेट पर 291 रन बना लिए. गुजरात को पहली पारी के आधार पर 63 रन की बढ़त है, जबकि उसके चार विकेट शेष है.

पार्थिव पटेल और मनप्रीत जुनेजा की अर्धशतकीय पारी की बदौलत गुजरात ने रणजी ट्रॉफी फाइनल में मुंबई के खिलाफ छह विकेट पर 291 रन बना लिए. गुजरात को पहली पारी के आधार पर 63 रन की बढ़त है, जबकि उसके चार विकेट शेष है.

शतक से चूके पार्थिव पटेल

पार्थिव पटेल उम्दा पारी खेलने के बाद शतक से चूक गए. पार्थिव 90 रन बनाने के बाद अभिषेक नायर की गेंद पर विकेट के पीछे आदित्य तारे को कैच थमा बैठे. गुजरात के कप्तान ने अपनी पारी में 146 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके जमाए. पार्थिव ने मनप्रीत जुनेजा के साथ चौथे विकेट के लिए 120 रन की साझेदारी की.

शतक से चूके पार्थिव पटेल

पार्थिव पटेल उम्दा पारी खेलने के बाद शतक से चूक गए. पार्थिव 90 रन बनाने के बाद अभिषेक नायर की गेंद पर विकेट के पीछे आदित्य तारे को कैच थमा बैठे. गुजरात के कप्तान ने अपनी पारी में 146 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके जमाए.

नो बॉल से मिला जीवनदान

पार्थिव पटेल को पारी की शुरूआत में नो बॉल की वजह से जीवनदान मिला. पटेल ने तेज गेंदबाज शार्दुल राठौर की गेंद पर विकेट के पीछे आदित्य तारे को कैच थमा दिया था. हालांकि, टीवी अंपायर ने रिप्ले देखने के बाद गेंद को नो बॉल करार दिया. पटेल ने इस जीवनदान का भरपूर फायदा उठाया.

यूं गिरे गुजरात के तीन विकेट

-इंदौर के होलकर स्टेडियम पर मैच के दूसरे दिन बगैर विकेट गंवाए दो रन से आगे खेलते हुए समित गोहेल का विकेट जल्दी गंवा दिया. गोहेल चार बनाकर शार्दुल ठाकुर की गेंद पर सूर्यकुमार यादव को कैच थमा बैठे.

-गोहेल के जोड़ीदार प्रियंक पांचाल (6) ने मेराई के साथ पारी को संभालने की कोशिश करते, इसके पहले अभिषेक नायर ने पांचाल को अपना शिकार बनाया.

-भार्गव मेराई ने 45 रन की पारी खेली. उनका विकेट अभिषेक नायर ने लिया.

-पार्थिव 90 रन बनाने के बाद अभिषेक नायर की गेंद पर विकेट के पीछे आदित्य तारे को कैच थमा बैठे.

पार्थिव पटेल की तरह मनप्रीत जुनेजा भी शतक से चूके. मनप्रीत को 77 रन के निजी स्कोर पर शार्दुल राठौर ने अपनी ही गेंद पर कैच आउट किया.

रुजुल गांधी के रूप में गुजरात का छठवा विकेट गिरा. गांधी 25 रन बनाकर सिंधू के शिकार बने.

मुंबई 228 रन पर ढेर, 17 साल के पृथ्वी शॉ ने जड़ा अर्धशतक

गुजरात के खिलाफ रणजी ट्रॉफी फाइनल मुकाबले में मुंबई की टीम 228 रन पर सिमट गई. मुंबई के लिए 17 साल के पृथ्वी शॉ ने सर्वाधिक 71 रन बनाए.

इंदौर के होलकर स्टेडियम पर टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई की शुरूआत अच्छी नहीं रही. सलामी बल्लेबाज अखिल हेरवाड़कर को चार रन के निजी स्कोर पर आरपी सिंह ने एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया.

अखिल हेरवाड़कर के आउट होने के बाद उनके जोड़ीदार पृथ्वी शॉ ने श्रेयस अय्यर (14) के साथ दूसरे विकेट के लिए 41 और सूर्यकुमार यादव (57) के साथ तीसरे विकेट के लिए 52 रन की साझेदारी की.

रणजी ट्रॉफी में पदार्पण मैच में सचिन तेंदुलकर की तरह शतक जमाने वाले पृथ्वी शॉ ने फाइनल में 93 गेंदों पर 11 चौके की मदद से 71 रन बनाए. उनके अलावा सूर्यकुमार यादव (57), अभिषेक नायर (35) और सिद्धेश लाड (23) अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहें.

facebook Twitter google skype whatsapp