फेड कप: बजा दिया हिटलर के समय का राष्ट्रगान, खिलाड़ियों को झेलनी पड़ी शर्मिंदगी

News18Hindi

Updated: February 13, 2017, 7:24 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

लॉस एंजिलिस. जर्मन टेनिस खिलाड़ियों को उस वक्त शर्मिंदगी झेलनी पड़ी, जब अमेरिकी टेनिस एसोसिएशन (यूएसटीए) ने फेड कप के दौरान हिटलर के समय का राष्ट्रगान बजा दिया. जोरदार विरोध और बात बिगड़ते देख हालांकि यूएसटीए ने माफी मांग ली. नाराज जर्मन खिलाड़ियों ने तो यहां तक कह दिया कि यह हमारे जीवन का सबसे बुरा पल है. इसके बाद यूएसटीए को ट्विटर पर ट्रोल करना शुरू कर दिया.

मैच से पहले हुई ये घटना

फेड कप: बजा दिया हिटलर के समय का राष्ट्रगान, खिलाड़ियों को झेलनी पड़ी शर्मिंदगी
(twitter)

अमेरिका में हवाई के आईलैंड पर अमेरिका और जर्मनी के बीच फेड कप टेनिस क्वार्टर फाइनल मुकाबले शुरू होने वाले थे. पहला मैच जर्मनी की आंद्रेया पेट्कोविक और अमेरिका की एलिसन रिस्के के बीच था. मैच शुरू होने के पहले परंपरा के अनुसार दोनों देशों के नेशनल एंथम बजाए गए. पहले मेजबान अमेरिका का राष्ट्रगान बजा. इसके बाद जर्मनी का. लेकिन भूलवश ये नेशनल एंथम उस वक्त का बजाया गया जो जर्मनी में नाजियों के शासनकाल में था.

खिलड़ियों ने कहा- अमेरिका में ऐसा होना निराशाजनक

नाराज जर्मनी की आंद्रेया पेट्कोविक ने कहा कि यह मेरे जीवन में हुई सबसे बुरी घटना है. 2017 में और वो भी अमेरिका में ऐसा होना बहुत ही निराशाजनक है. यह शर्मनाक और नजरअंदाज करने जैसा है. आंखों में आंसू आ गए थे. बुरी बात यह हैकि अमेरिकियों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा. दूसरी ओर बॉस बारबारा रिटनर ने कहा- हमें अपमानित महसूस हो रहा है. इसके लिए कोई बहाना नहीं बनाया जा सकता.

First published: February 13, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp