राज्यमंत्री विजय मिश्रा की विधायकी पर उठे सवाल, हाईकोर्ट ने डाक मतपत्रों की गणना के दिए आदेश

Sarvesh Dubey | ETV UP/Uttarakhand

First published: January 13, 2017, 1:35 PM IST | Updated: January 13, 2017, 1:38 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
राज्यमंत्री विजय मिश्रा की विधायकी पर उठे सवाल, हाईकोर्ट ने डाक मतपत्रों की गणना के दिए आदेश
इलाहाबाद हाईकोर्ट में गाजीपुर विधानसभा सीट से 2012 में निर्वाचित घोषित विधायक और राज्य मंत्री विजय कुमार मिश्रा के निर्वाचन को चुनौती देने वाली चुनाव याचिका पर आज सुनवाई हुई.

इलाहाबाद हाईकोर्ट में गाजीपुर विधानसभा सीट से 2012 में निर्वाचित घोषित विधायक और राज्य मंत्री विजय कुमार मिश्रा के निर्वाचन को चुनौती देने वाली चुनाव याचिका पर आज सुनवाई हुई.

याचिकाकर्ता पूर्व विधायक डॉ राजकुमार गौतम की ओर से दाखिल चुनाव याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 16 जनवरी को हाईकोर्ट में डाकमत पत्रों की गणना का आदेश दिया है. डाक मत पत्रों की गणना हाईकोर्ट के दो न्यायिक अधिकारियों की मौजूदगी में करायी जायेगी.

याचिका में गलत तरीके के डाक मत पत्र इश्यू करने और डाक मतों की काउन्टिंग न करने का आरोप लगाया गया है. गौरतलब है कि विधायक विजय कुमार मिश्रा ने अपने निकटतम प्रतिद्वन्दी डॉ राजकुमार गौतम से महज 241 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी, जबकि मतगणना के दौरान 1030 डाक मतों की गणना ही नहीं की गई थी.

इसे लेकर ही पूर्व विधायक डॉ रामकुमार गौतम ने हाईकोर्ट में चुनाव याचिका दाखिल की थी, जिसे रद्द करने की विजय कुमार मिश्रा की याचिका पहले हाईकोर्ट ने पहले खारिज कर दी थी. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका दाखिल की थी, वहां से भी उन्हें कोई राहत नहीं मिली थी.

इसके बाद हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान विजय कुमार मिश्रा के अधिवक्ता ने कोर्ट के समक्ष कहा था कि डाक मतों की काउन्टिंग से उन्हें कोई आपत्ति नहीं है. जिस पर सुनवाई करते हुए जस्टिस पंकज मित्तल की एकल पीठ ने ये आदेश दिया है.

facebook Twitter google skype whatsapp