KGMU में आग: अब तक 11 लोगों की मौत, अस्पताल प्रशासन ने मौत के आंकड़े को रुटीन बताया

Anurag Tripathi | ETV UP/Uttarakhand
Updated: July 17, 2017, 12:27 PM IST
KGMU में आग: अब तक 11 लोगों की मौत, अस्पताल प्रशासन ने मौत के आंकड़े को रुटीन बताया
केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में आग लगने से अब तक 11 लोगों की मौत की खबर है. वहीं केजीएमयू प्रशासन मौत के आंकड़े को को रूटीन बता रहा है.
Anurag Tripathi | ETV UP/Uttarakhand
Updated: July 17, 2017, 12:27 PM IST
केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में आग लगने से अब तक 11 लोगों की मौत की खबर है. वहीं केजीएमयू प्रशासन मौत के आंकड़े को को रूटीन बता रहा है. उसका कहना है कि आग लगने से किसी की भी मौत नहीं हुई.​ जिनकी मौत हुई है, वह गंभीर रूप से बीमार थे.

पता चला है कि ट्रॉमा सेंटर की आग में रामप्यारी, संतोष, सरस्वती, सुरेंद्र कुमार, साधू सिंह
अरविंद गौतम, वसीम, हेमंत, देवी प्रसाद समेत 2 बच्चों की मौत हो गई.

उधर कमिश्नर ने मरीजों और तीमारदारों से पूछताछ की. कमिश्नर की जांच में 5 मरीजों की मौत की पुष्टि हुई है.

जानकारी के अनुसार लखीमपुर के साधू सिंह रस्तोगी, आलमबाग के हेमंत कुमार धवन की शिफ्टिंग के बाद मौत हुई. वहीं उन्नाव के सड़क हादसे में घायल देवी प्रसाद को बिना ऑक्सीजन सिलेंडर लगाए शिफ्ट किया गया, जिससे उनकी मौत हो गई.

शुरुआती जांच में पता चला है कि ट्रामा सेंटर में आग बुझाने के पर्याप्त इंतजाम नहीं हैं. हौज रील गायब मिली वहीं पाइप के सॉकेट भी उखड़े मिले हैं. फायर एक्सटिंग्युशर भी यहां सिर्फ दिखावे के लिए लगे हैं.
केजीएमयू आग में मची भगदड़ से 2 बच्चों की भी मौत हो गई थी. कमिश्नर ने जांच कमेटी गठित की.

इस कमेटी में डीएम, एसएसपी, फायर सेफ्टी, बिजली के इंजीनियर शामिल किए गए. पांच सदस्यीय फॉरेंसिक टीम भी छानबीन कर रही है. फॉरेंसिक टीम ने घटना स्थल का दोबारा दोबारा मुआयना किया है. टीम ने जांच के लिए नमूने एकत्र किए.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर