यूपी विधानसभा की सुरक्षा: लोकसभा के साथ गुजरात, महाराष्ट्र विधानसभाओं का होगा अध्ययन

News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 5:06 PM IST
यूपी विधानसभा की सुरक्षा: लोकसभा के साथ गुजरात, महाराष्ट्र विधानसभाओं का होगा अध्ययन
उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष, हृदय नारायण दीक्षित ने सोमवार को कहा​ कि यूपी विधानसभा की सुदृढ़ सुरक्षा व्यवस्था के लिए लोकसभा और अन्य विधानसभाओं का अध्ययन किया जाएगा.
News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 5:06 PM IST
उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष, हृदय नारायण दीक्षित ने सोमवार को कहा​ कि यूपी विधानसभा की सुदृढ़ सुरक्षा व्यवस्था के लिए लोकसभा और अन्य विधानसभाओं का अध्ययन किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि 14 जुलाई को विधान सभा में सुरक्षा के संबंध में लिए गए निर्णय एवं घोषणाओं के अनुपालन में विधान सभा के स्तर पर समस्त कार्यवाही की जा चुकी है.

इसके तहत विधायक एवं उनके एक प्रतिनिधि के साथ ही विधानसभा सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अतिरिक्त सभी प्रवेश-पत्र निरस्त कर दिए गए हैं.

यही नहीं विधायकों के एक वाहन को छोड़कर सभी वाहनों के प्रवेश-पत्रों भी निरस्त कर दिए गए हैं. हृदयनारायण दीक्षित ने सभी विधायकों से सहयोग की अपील की है कि सामान्य वाहन प्रवेश पत्र 365, पूर्व विधायक वाहन प्रवेश पत्र 715, अस्थायी व्यक्तिगत प्रवेश पत्र 421 को निरस्त कर दिया गया है.

सदन के अंदर माननीय सदस्यों के अतिरिक्त जो भी कर्मी अथवा अन्य महानुभाव प्रवेश करेंगे उनकी तलाशी ली जाएगी और विधान सभा सचिवालय के संविदा एवं दैनिक वेतनकर्मियों का पुलिस सत्यापन कराया जाएगा.

उन्होंने कहा कि 12 जुलाई को विधान सभा मण्डप में पाए गए संदिग्ध पदार्थ के पश्चात यह आवश्यक हो गया है कि सुरक्षा की दृष्टि से सख्त कदम उठाए जाएं. इस संबंध में यह निर्णय भी लिया गया है कि लोक सभा समेत अन्य प्रदेश जहां विधान सभाओं में सुरक्षा की व्यवस्थायें उत्कृष्ट हैं, वहां जाकर उनकी व्यवस्थाओं को समझा जाए एवं उत्तर प्रदेश विधान सभा में भी उसको लागू किया जाए.

श्री दीक्षित ने बताया है कि विधान सभा के बजट सत्र की समाप्ति के बाद गुजरात एवं महाराष्ट्र विधान सभाओं की सुरक्षा व्यवस्था का अध्ययन किया जाना प्रस्तावित है. इस कार्य हेतु उत्तर प्रदेश विधान सभा से अध्यक्ष के नेतृत्व में एक टीम इन दोनों विधानसभाओं में जाकर वहां के अध्यक्ष एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारियों से बैठक करेगी.

अध्यक्ष, विधान सभा ने कहा है कि लोकतंत्र की व्यवस्था अद्यतन सबसे राजनीतिक व्यवस्था है. जिस प्रकार की घटना उत्तर प्रदेश विधान सभा में घटित हुई है, उससे यह लगता है कि कुछ अराजकतत्व लोकतंत्र की इस सर्वोच्च व्यवस्था को आघात पहुंचाना चाहते हैं.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर