पाक के अधिकारी को गुरुद्वारे में जूते साफ करना पड़ा महंगा

आईएएनएस
Updated: August 3, 2012, 9:06 AM IST
पाक के अधिकारी को गुरुद्वारे में जूते साफ करना पड़ा महंगा
धार्मिक सद्भाव बढ़ाने के उद्देश्य से भारत-पाकिस्तान के गुरुद्वारों में सामुदायिक सेवा करना पाकिस्तान के एक अधिकारी को महंगा पड़ गया।
आईएएनएस
Updated: August 3, 2012, 9:06 AM IST
इस्लामाबाद। धार्मिक सद्भाव बढ़ाने के उद्देश्य से भारत-पाकिस्तान के गुरुद्वारों में सामुदायिक सेवा करना पाकिस्तान के एक अधिकारी को महंगा पड़ गया। उन्हें पद से बर्खास्त कर दिया गया। समाचार पत्र 'डॉन' के अनुसार पेशावर के उप महान्यायवादी मोहम्मद खुर्शीद खान को संघीय सरकार ने बुधवार को पद से हटा दिया। खुर्शीद की जगह एक अन्य अधिवक्ता फारुक शाह को नियुक्त किया गया।

खुर्शीद ने पेशावर में एक सिख की हत्या के बाद समुदाय के साथ एकता प्रदर्शित करने के लिए 2010 से गुरुद्वारों में सामुदायिक सेवा शुरू की। अधिवक्ताओं के प्रतिनिधिमंडल के साथ भारत गए खुर्शीद ने अमृतसर स्थित स्वर्ण मंदिर में सामुदायिक सेवा की।

नेपाल में मौजूद खुर्शीद ने पाकिस्तानी मीडिया से कहा कि कुछ लोग उन्हें हटाने का प्रयास कर रहे हैं और उनके पाकिस्तान वापसी पर बखेड़ा खड़ा करना चाहते हैं। पत्र के अनुसार खुर्शीद अपने अस्वाभाविक व्यवहार के लिए जाने जाते हैं।

First published: August 3, 2012
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर