पाकिस्तान में लापता मौलवी मिले, 20 मार्च को लौटेंगे भारत

News18Hindi

Updated: March 18, 2017, 9:39 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

पाकिस्तान से लापता हो गए दिल्ली की हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह  के मुख्य खादिम आसिफ अली निजामी और उनके भतीजे नजीम अली निजामी के बारे में अच्छी खबर आई है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि पाकिस्तानी पीएम के विदेश सलाहकार सरताज अजीज़ से बातचीत के बाद दोनों को रिहा कर दिया गया है.

ख़बरों के मुताबिक दोनों सूफी मौलवी 20 मार्च को भारत वापस लौट आएंगे. बता दें कि इससे पहले पाकिस्तानी मीडिया और न्यूज़ एजेंसी पीटीआई ने खुलासा किया था कि पाक ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने दोनों को हिरासत में लिया हुआ था. हालांकि इस बारे में स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है.

पाकिस्तान में लापता मौलवी मिले, 20 मार्च को लौटेंगे भारत
Image Source: PTI

गुरुवार से लापता हैं दोनों शख्स बता दें कि निजामुद्दीन दरगाह के मुख्य खादिम आसिफ अली निजामी और उनके भतीजे नजीम अली निजामी लाहौर एयरपोर्ट से गुरुवार से लापता हो गए थे. इस बारे में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तानी अधिकारियों से बातचीत की थी. पाकिस्तानी मीडिया की माने तो आईएसआई ने इन दोनों को गैर कानूनी तरीके से पाकिस्तान आने की वजह से हिरासत में लिया है.

क्या कहा निजामी के परिवार ने

आसिफ अली के बेटे साजिद निजामी के मुताबिक आसिफ निजामी कराची हवाई अड्डे से लापता हो गए, जबकि नाजिम निजामी समेत उनके साथ सफर कर रहे कुछ अन्य लोगों को लाहौर में हिरासत में ले लिया गया है. उनके परिवार ने बताया कि हमारे पास खबर है कि वो कराची में हैं लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से बाहर नहीं आने दिया जा रहा है.

क्या है मामला

गौरतलब है कि आसिफ निजामी और नजीम निजामी लाहौर की दाता दरबार दरगाह पर गए थे. उन्हें बुधवार को वहां से लौटने के लिए कराची की फ्लाइट में बैठना था लेकिन लाहौर एयरपोर्ट पर अधूरे ट्रैवल डॉक्युमेंट्स होने का हवाला देकर उन्हें रोका गया था. सूत्रों के मुताबिक खादिम लाहौर एयरपोर्ट से जबकि दूसरे मौलवी कराची एयरपोर्ट से लापता हो गए थे. भारत सरकार ने और इस्लामाबाद में मौजूद भारतीय राजूदत ने यह मामला पाकिस्तान सरकार के सामने उठाया है.

(एजेंसी इनपुट भी)

First published: March 18, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp