उत्तर कोरिया से निपटने के लिए साथ आए अमेरिका और चीन

भाषा

Updated: March 19, 2017, 10:39 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

चीन और अमेरिका ने उत्तर कोरिया के परमाणु एवं मिसाइल कार्यक्रमों से पैदा हुए खतरों से संयुक्त रूप से निपटने को लेकर आज सहमति जताई. अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने आगाह किया कि इस क्षेत्र में तनाव खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है.

पदभार संभालने के बाद अपने पहले चीन दौरे पर पहुंचे टिलरसन ने चीनी विदेश मंत्री वांग यी के साथ बातचीत के बाद कहा कि हमने पिछले 20 सालों में किए गए उन प्रयासों का संज्ञान लिया है, जो उत्तर कोरिया के गैरकानूनी हथियार कार्यक्रमों पर अंकुश लगाने में सफल नहीं रहें.

उत्तर कोरिया से निपटने के लिए साथ आए अमेरिका और चीन
चीन और अमेरिका ने उत्तर कोरिया के परमाणु एवं मिसाइल कार्यक्रमों से पैदा हुए खतरों से संयुक्त रूप से निपटने को लेकर आज सहमति जताई तथा अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने आगाह किया कि इस क्षेत्र में तनाव खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है.

ट्रंप ने कल ट्विटर पर कहा था, ‘उत्तर कोरिया बहुत बुरा व्यवहार कर रहा है. वह वर्षों से अमेरिका के साथ खेल रहा है. चीन ने मदद करने के लिए कुछ खास नहीं किया.’ चीन ने गुस्से में पलटवार करते हुए अमेरिका पर आरोप लगाया है कि उसने दक्षिण कोरिया में मिसाइल विरोधी प्रणाली तैनात करके और सोल के साथ सैन्य अभ्यास करके तनाव बढ़ाया है.

टिलरसन ने चीन के विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात की. अमेरिकी विदेश मंत्री के कल राष्ट्रपति शी चिनफिंग से भी मुलाकात करने की संभावना है.

First published: March 19, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp