18 महीने नॉर्थ कोरिया की जेल में रहा अमेरिकी छात्र, छूटने के 6 दिन बाद मौत

News18Hindi
Updated: June 20, 2017, 11:03 AM IST
18 महीने नॉर्थ कोरिया की जेल में रहा अमेरिकी छात्र, छूटने के 6 दिन बाद मौत
ओट्टो को पिछले साल जनवरी में नॉर्थ कोरिया में गिरफ्तार किया गया था. (Photo- PTI)
News18Hindi
Updated: June 20, 2017, 11:03 AM IST
नॉर्थ कोरिया की जेल में डेढ़ साल बिताने वाले अमेरिकी छात्र की वहां से बाहर आने के छह दिन बाद ही मौत हो गई. ओट्टो वॉर्मबिएर नाम के इस छात्र को अमेरिका ने चिकित्सकीय सहायता के लिए नॉर्थ कोरिया से छुड़ाया था.

परिवार ने एक बयान में कहा, "उत्तर कोरिया के हाथों हमारे बेटे को जिस तरह से यातना दी गई उससे स्पष्ट था कि यही होने वाला है." अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसे नॉर्थ कोरिया की क्रूर सरकार को ओट्टो की स्थिति का जिम्मेदार बताया है.

ओट्टो वर्जीनिया यूनिवर्सिटी का छात्र था जिसे प्योंग्यांग के एयरपोर्ट से पिछले साल जनवरी में गिरफ्तार किया गया था. उस पर आरोप लगाया गया कि उसने होटल के कमरे से एक राजनीतिक पोस्टर चुराया है. इसके बाद उसे 15 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई गई थी.

गंभीर ब्रेन इंजरी

अमेरिका में ओट्टो का मेडिकल कराया गया जिसमें पता चला कि ओट्टो को कई ब्रेन इंजरीज़ हैं. हालांकि जांच में इन चोटों के कारणों का पता नहीं चल पाया. डॉक्टरों ने बताया कि ओट्टो के दिमाग के ज्यादातर हिस्सों में टिशू लॉस हो चुका था. लेकिन शारीरिक चोटों का कोई निशान नजर नहीं आया.

ओट्टो की मौत की घटना ऐसे वक्त में सामने आई है जब नॉर्थ कोरिया लगातार मिसाइल परीक्षण कर रहा है और इसने क्लियर संदेश दिया है कि यह सभी देशों के लिए एक खतरा है. इस घटना ने नॉर्थ कोरिया में ह्यूमन राइट्स के उल्लंघन की तरफ भी दुनिया का ध्यान आकर्षित किया है. किम जोंग उन नॉर्थ कोरिया के राजा हैं, वह साल 2011 में अपने पिता किम जोंग इल की मौत के बाद राजा बने हैं.
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर