VIDEO: 'सिंधियों' ने सड़क पर उतरकर पाकिस्तान से मांगी आजादी

एएनआई
Updated: July 18, 2017, 9:49 AM IST
VIDEO: 'सिंधियों' ने सड़क पर उतरकर पाकिस्तान से मांगी आजादी
प्रदर्शन करते हुए जेएसएमएम के कार्यकर्ता photo - ANI
एएनआई
Updated: July 18, 2017, 9:49 AM IST
पाकिस्तान के हैदराबाद में सिंध प्रांत के लिए स्वतंत्रता की मांग करते हुए एक प्रतिबंधित सिंधी संगठन जीय सिंध मुत्ताहिदा महाज (जेएसएमएम) के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया है. जेएसएमएम ने इस प्रदर्शन के जरिए पाकिस्तानी सेना और इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) विंग के द्वारा पकड़े गए सिंधी राजनीतिक कार्यकर्ताओं की रिहाई की मांग की है.

हैदराबाद के सिंध विश्वविद्यालय से प्रदर्शन करती रैली शुरू हुई और जिला प्रेस क्लब में समाप्त हुई. प्रदर्शनकर्ताओं ने बैनर और तख्ते के साथ सिंध के लिए पूर्ण स्वतंत्रता की मांग की थी. साथ ही संयुक्त राष्ट्र, अंतरराष्ट्रीय समुदाय और मानव अधिकार संगठनों से आग्रह किया कि वे पाकिस्तान को नोटिस भेजे.

पाकिस्तानी कब्जे, शोषण और क्रूरता के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शनकारियों ने सिंधी स्वतंत्रता कार्यकर्ताओं की हत्याओं पर अधिकारियों से सवाल किया. जेएसएमएम के नेता असीफ जुनो ने सहभागियों को हैदराबाद प्रेस क्लब में संबोधित किया. जबकि पुलिस और पाकिस्तानी रेंजर्स के दल ने भारी बैटन चार्ज और फायरिंग से मार्च को रोकने की कोशिश की. 100 से अधिक जेएसएमएम कार्यकर्ता गिरफ्तार किए गए.



जेएसएमएम अध्यक्ष शफी बर्फट ने कार्यकर्ताओं के ऊपर अत्याचार की निंदा की. जेएसएमएम के अध्यक्ष ने प्रदर्शनकारियों पर हुए बल प्रयोग की निंदा करते हुए कहा कि यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार का खुला उल्लंघन है.

उन्होंने कहा कि सिंधी राजनीतिक कार्यकर्ताओं को सताया जा रहा है. अपहरण कर लिया जाता है या उन्हें गायब कर मार दिया जाता है. यहां तक ​​कि अगर कोई व्यक्ति अपनी पाकिस्तान की अत्याचार के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से अपील करने के लिए कहता है तो उसकी गिरफ्तारी कर ली जाती है.

उन्होंने संयुक्त राष्ट्र संघ, अमेरिका, जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस, भारत सहित अन्य अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से पाकिस्तान के अत्याचारों पर तत्काल नोटिस लेने और सिंध की स्वतंत्रता का समर्थन करने की अपील की है. पिछले महीने विश्व सिंधी कांग्रेस (डब्ल्यूएससी) ने एक महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किया, जिसमें पाकिस्तान से स्वदेशी सिंधी और अन्य अल्पसंख्यकों के शोषण को खत्म करने का आह्वान किया गया.

ये भी पढ़ें -
अब पाक के सिंध में लगे ‘आजादी’ के नारे, लंदन में भी बलूचों का प्रदर्शन
45 साल से जारी है सिंधुदेश का आंदोलन,क्या पाकिस्तान से अलग हो जाएगा?
First published: July 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर