ब्राजील के प्रेसिडेंट को लगता है 'भूतों' से डर, पत्नी-बच्चे सहित सरकारी पैलेस छोड़ा

News18India

Updated: March 12, 2017, 1:01 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

रियो डी जिनेरियो. ब्राजील के प्रेसिडेंट मिशेल टेमेर ने भूतों के डर से अपना आलीशान महल छोड़ दिया है. ब्राजील के एक वीकली न्यूजपेपर ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि मिशेल अब ब्रासीलिया स्थित अपने एल्वोरेडा पैलेस में नहीं रह रहे हैं.  76 साल के टेमर और उनकी 33 वर्षीय पत्नी मार्केला को यह पैलेस भूतिया लगता है.

लोकल मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, टेमर ने इस हफ्ते एल्वोरेडा पैलेस छोड़ने की बात बताई थी. वह अपनी पत्नी और सात साल के बेटे के साथ वाइस प्रेसिडेंट के घर रहने चले गए हैं, जो कि एल्वोरेडा पैलेस से छोटा है.

ब्राजील के प्रेसिडेंट को लगता है 'भूतों' से डर, पत्नी-बच्चे सहित सरकारी पैलेस छोड़ा
ब्राजील के प्रेसिडेंट मिशेल टेमेर ने भूतों के डर से अपना आलीशान महल छोड़ दिया है.

टेमर ने इस बारे में कहा, "मुझे यहां कुछ अजीब लगता है. मैं पहली रात से ही यहां सो नहीं पाया हूं. यहां अच्छी एनर्जी नहीं है. मार्केला को भी ऐसा ही महसूस हुआ. सिर्फ मिशेलजिन्हो (उनका बेटा) को यह पसंद आया है. वह एक जगह से दूसरी जगह भागता रहता था. हम तो यह भी सोचने लग गए थे कि कहीं यहां भूत तो नहीं हैं?"

ग्लोबो अखबार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मार्केला टेमर ने बुरी आत्माओं को भगाने के लिए एक पादरी को भी यहां बुलाया था लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ. इसके बाद टेमर परिवार जबीरू पैलेस में चले गए.

पैलेस में मौजूद हैं सभी सुविधाएं

एल्वोरेडा का अर्थ है सूर्योदय. इसका डिजाइन ब्राजील के वास्तुकार ऑस्कर नाइमेयर ने किया था. इसमें एक बड़ा स्वीमिंग पूल, फुटबॉल का मैदान, प्रेयर रूम, हॉस्पिटल और बड़ा सा बगीचा है.

करप्शन के मामलों में फंसे हैं टेमर

बता दें कि टेमर राजनीतिक अस्थिरता के दौर से गुजर रहे हैं. उनके कई सहयोगियों पर करप्शन और घूस लेने के आरोप हैं. 2014 में गैरकानूनी तरीके से डोनेशन लेने के एक मामले में टेमर पर कोर्ट केस भी चल रहा है.

First published: March 12, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp