दक्षिण चीन सागर में जब्त किए ड्रोन को चीन ने अमेरिका को वापस लौटाया

भाषा

Updated: December 20, 2016, 1:55 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

बीजिंग। चीन ने पानी के नीचे चलने वाला ड्रोन आज अमेरिका को लौटा दिया जो उसने विवादित दक्षिण चीन सागर से जब्त किया था। इस घटना के कारण अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और चीन के बीच बड़ा विवाद उत्पन्न हो गया था।

चीनी मंत्रालय के एक संक्षिप्त बयान में कहा गया है कि चीनी और अमेरिकी पक्षों में मित्रवत चर्चा के बाद पानी के नीचे चलने वाले अमेरिकी ड्रोन को लौटाने का काम 20 दिसंबर को दोपहर बाद दक्षिण चीन सागर के संबंधित जलक्षेत्र में आसानी से पूरा कर लिया गया। बयान में इस सुपुर्दगी के बारे में ब्योरा नहीं दिया गया।

दक्षिण चीन सागर में जब्त किए ड्रोन को चीन ने अमेरिका को वापस लौटाया
चीन ने पानी के नीचे चलने वाला ड्रोन आज अमेरिका को लौटा दिया जो उसने विवादित दक्षिण चीन सागर से जब्त किया था। इस घटना के कारण अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और चीन के बीच बड़ा विवाद उत्पन्न हो गया था।

दक्षिण चीन सागर में एक अमेरिकी सर्वेक्षण वाहन द्वारा परिचालित ड्रोन को चीन की नौसेना के एक पोत ने जब्त कर लिया था। इसने अमेरिकी पोत से आग्रह के बावजूद इसे लौटाने से मना कर दिया था।

शुरू में, चीनी सेना ने कहा था कि ड्रोन संबंधी घटना से उचित तरीके से निपटा जाएगा, लेकिन ट्रंप के ट्वीट के बाद कहा कि इसे ‘सफलतापूर्वक सुलझा लिया जाएगा।’

ट्रंप ने ट्वीट किया था कि चीन ने अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र से अमेरिकी नौसेना के एक अनुसंधान ड्रोन को चुरा लिया है। इसे पानी से निकालकर एक अभूतपूर्व कदम के तहत चीन ले जाया गया है। अगले दिन उन्होंने फिर ट्वीट किया था। इसमें उन्होंने लिखा था कि हमें चीन को बता देना चाहिए कि उनके द्वारा चुराया गया ड्रोन हमें वापस नहीं चाहिए। इसे वे ही रख लें।

First published: December 20, 2016
facebook Twitter google skype whatsapp