भारत के गुनहगार के साथ फिर खड़ा हुआ चीन, मसूद पर बैन का किया विरोध

News18India
Updated: February 7, 2017, 11:50 PM IST
News18India
Updated: February 7, 2017, 11:50 PM IST

आतंकी मसूद अजहर को बैन करने की भारत की पहल के बीच एक बार फिर चीन ने अड़ंगा फंसा दिया है. जैश-ए-मोहम्मद के सरगना को बैन करने के लिए अमेरिका ने चीन द्वारा की गई इस हरकत की केंद्र सरकार सहित विपक्ष ने भी निंदा की है.

अमेरिका ने सुरक्षा परिषद की प्रतिबंध कमेटी के सामने पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर के खिलाफ एक प्रस्ताव पेश किया था. इस प्रस्ताव में अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करते हुए उस पर पाबंदी लगाने की मांग की गई थी. अमेरिका के इस प्रस्ताव को फ्रांस और ब्रिटेन का भी समर्थन मिला. लेकिन, चीन भारत के इस गुनहगार के साथ फिर से खड़ा हो गया.

चीन के इस अड़ियल रवैये पर हिंदुस्तान ने भी अपना रुख साफ कर दिया है. भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि हमें इसके बारे में पता चला है और हमने इसे चीन की सरकार के सामने उठाया है. चीन के इस कदम पर विपक्ष भी सरकार के साथ खड़ा दिख रहा है. कांग्रेस ने कहा है कि चीन को समझना चाहिए कि आतंकवाद पूरे विश्व के लिए खतरा है और इस पर दो मापदंड नहीं हो सकते.

गौरतलब है कि भारत आतंकी मसूद अजहर को बैन करने के लिए पहले भी यूएन के समक्ष जा चुका है. लेकिन, संयुक्त राष्ट्र में चीन ने हर बार, आतंकी मसूद का ही साथ दिया है.

First published: February 7, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर