भारत की एनएसजी सदस्यता पर चीन फिर बना बड़बोला, कहा 'ये किसी का विदाई तोहफा नहीं है'

आईएएनएस

Updated: January 16, 2017, 10:09 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

बीजिंग। परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह यानी एनएसजी में भारत को शामिल करने को लेकर चीन ने अमेरिका को आड़े हाथ लिया है। चीन ने सोमवार को अमेरिका पर निशाना साधते हुए कहा है कि इस समूह में भारत का प्रवेश, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का विदाई तोहफा नहीं हो सकता। चीन की ओर से ये बयान, दक्षिण और मध्य एशिया के लिए अमेरिका की सहायक विदेशमंत्री के एक बयान के जवाब के रूप में आया है।

अमेरिका की सहायक विदेश मंत्री निशा देसाई बिस्वाल ने एनएसजी में भारत के प्रवेश की प्रक्रिया में चीन को सबसे बड़ी बाधा बताया है। इस पर चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने अब कहा है कि परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत के आवेदन के संबंध में, एनएसजी में गैर एनपीटी देशों के प्रवेश के संदर्भ में हमने अपना पक्ष स्पष्ट कर दिया है। हुआ ने कहा कि मैं बताना चाहती हूं कि भारत की एनएसजी की सदस्यता, किसी के लिए विदाई तोहफा नहीं हो सकता, जिसे देश आपस में भेंट करें।

भारत की एनएसजी सदस्यता पर चीन फिर बना बड़बोला, कहा 'ये किसी का विदाई तोहफा नहीं है'
Photo - getty images

गौरतलब है कि ओबामा के नेतृत्व में अमेरिकी प्रशासन ने एनएसजी में भारत की सदस्यता का पुरजोर समर्थन किया है। चीन 48 सदस्यीय इस समूह में भारत के प्रवेश का विरोध करता रहा है।

First published: January 16, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp