सिक्किम विवाद के बीच चीनी सेना का तिब्बत में 11 घंटे तक युद्धाभ्‍यास

भाषा
Updated: July 17, 2017, 10:43 PM IST
सिक्किम विवाद के बीच चीनी सेना का तिब्बत में 11 घंटे तक युद्धाभ्‍यास
Chinese army चीन की सेना ने तिब्बत में गोलीबारी का अभ्यास किया (AP)
भाषा
Updated: July 17, 2017, 10:43 PM IST
सिक्किम सेक्टर के डोकलाम क्षेत्र में भारतीय और चीनी सेना के गतिरोध के बीच चीन की सेना ने सोमवार को कहा कि इसने पठारी इलाके में हमले की अपनी क्षमता जांचने के लिए दूर दराज के तिब्बत पवर्तीय क्षेत्र में गोलीबारी का अभ्यास किया है.

सेना ने कहा कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी, पीएलए ने 5000 मीटर से अधिक की ऊंचाई पर 11 घंटा लंबा अभ्यास किया, जिसका लक्ष्य इस तरह के ठिकानों पर लड़ाकू क्षमता को बेहतर करना है.

सरकार संचालित अख़बार ने पीएलए की एक प्रेस विज्ञप्ति के हवाले से बताया कि पीएलए तिब्बत क्षेत्र कमान ने इस महीने ये अभ्यास किया है. इसमें सैनिकों की तेज़ी से तैनाती, संयुक्त हमला और विमान रोधी रक्षा शामिल हैं.

प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक इस अभ्यास ने पठारों पर ब्रिगेड की संयुक्त हमला क्षमता को प्रभावी ढंग से जांचा.

पीएलए, तिब्बत कमान वास्तविक नियंत्रण रेखा एलएसी सहित तिब्बत क्षेत्र को जोड़ने वाली सीमाओं पर पहरेदारी करता है. सीसीटीवी रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिगेड लंबे समय से ब्रह्मपुत्र नदी के मध्यम और निचले स्थानों पर तैनात था. ये ब्रिगेड अग्रिम लड़ाकू मिशनों के लिए ज़िम्मेदार है.

ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो में सैनिकों को एंटी-टैंक ग्रेनेड, बंकरों पर मिसाइलों और तोपखाने के लिए होवित्जर का इस्तेमाल करते दिखाया गया है.

अभ्यास में रडार यूनिट दुश्मन के विमानों की पहचान करते और सैनिक एंटी-क्राफ्ट मिसाइलों से निशाना साधते दिख रहे हैं. इसके अलावा तिब्बत मोबाइल कम्युनिकेशन एजेंसी ने तिब्बत की राजधानी ल्हासा में 10 जुलाई को एक अभ्यास किया.

गौरतलब है कि चीन और भारत के बीच सिक्किम सेक्टर के डोकलाम क्षेत्र में गतिरोध चल रहा है जहां भारतीय सैनिकों ने 16 जून को चीनी सैनिकों की ओर से किए जा रहे सड़क निर्माण के कार्य को रोक दिया था.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर